Congress President Election: दिग्गी राजा नहीं लड़ेंगे अध्यक्ष पद का चुनाव, मल्लिकार्जुन

Congress President Election: दिग्गी राजा नहीं लड़ेंगे अध्यक्ष पद का चुनाव,मल्लिकार्जुन का करेंगे समर्थन

Congress President Election

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर कांग्रेस के अंदर काफी हलचल मची हुई है और देश के लोगों में भी काफी उत्सुकता है कि अब कौन होगा कांग्रेस का अध्यक्ष?  बहुत कम बार ऐसा मौका होता जब गाँधी परिवार के बीच का कोई अध्यक्ष न बना हो और अब भी ऐसा अवसर आ गया है जब कांग्रेस अध्यक्ष गाँधी परिवार का नहीं होगा।  आप को बता दें कि आज वो घड़ी आ गई है जब सभी उम्मीदवार अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।  पहले इस रेस में दो नाम शशि थरूर और अशोक गहलोत सामने आ रहे थे लेकिन कल सोनिया गाँधी से मिलने के बाद गहलोत ने अध्यक्ष पह का चुनाव लड़ने से मना कर दिया था।

Congress President Election: बता दें कि अब इस पद के लिए दो उम्मीदवारों की तस्वीर साफ हो चुकी है। इसमें पहला नाम कांग्रेस सांसद शशि थरूर और अब दस जनपथ के करीबी ने बताया कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी नामांकन दाखिल कर इस दौड़ में शामिल हो सकते है। ऐसा इसलिए भी है कि खड़गे को गांधी परिवार की पसंद बताया जा रहा है। इनका नाम काफी समय से चर्चा में भी चल रहा है। और अब दिग्विजय सिंह ने ऐलान कर दिया है कि वो अब अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे। मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं और मैं उनका नामांकन करने में सहायता करूंगा।

 

नामांकन का आज है आखिरी दिन

शुक्रवार 30 सितंबर को कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के लिए नामांकन नामांकन का आखिरी दिन है और आज शाम तक ही अम्मीदवार अपना नामांकन  दाखिल कर पाएंगे।  माना जा रहा है कि शशि थरूर 12:15 बजे नामांकन दाखिल करेंगे।

शशि थरूर ने नामांकन के बारे में कहा कि मैं दोपहर में (कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन) दाखिल करने जा रहा हूं। हम सब एक ही कांग्रेस विचारधारा को साझा करते हैं। हम चाहते हैं कि पार्टी मजबूत हो।ये कोई प्रतिद्वंद्विता नहीं है। यह मित्रतापूर्ण मकाबला होने जा रहा है।

सबसे ज्यादा चांस मल्लिकार्जुन खड़गे का ही अध्यक्ष बनने का लगा रहा है और हम यूं ही नहीं ऐसे कह रहे है क्योंकि वो नेहरू-गांधी परिवार के भरोसेमंद नेता हैं और  साथ ही उनके राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार और माकपा महासचिव सीताराम येचुरी जैसे विपक्ष के नेताओं के साथ भी अच्छे संबंध हैं।

  शशि थरुर की दावेदारी में कितना दम?

वहीं, अध्यक्ष पद के लिए पहले से ही ताल ठोक रहे शशि थरुर को गांधी परिवार से  समर्थन मिल सकता है।  थरूर कांग्रेस नेतृत्व का विरोध करने वाले जी-23 का हिस्सा रहे हैं और उनकी एक अलग राजनीतिक शैली है। देखने वाली बात होगी की इस चुनाव में वह नेताओं का कितना समर्थन पाते हैं।

मनीष तिवारी भी दाखिल कर सकते हैं नामांकन

सूत्रों के मुताबिक G-23 गुट के मनीष तिवारी भी नामांकन दाखिल कर सकते हैं। हालांकि, इस गुट के किसी नेता ने अभी तक आधिकारिक तौर पर इस बाद का खुलासा नहीं किया है। फिलहाल किसी भी कांग्रेस नेता ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल नहीं किया है।

ये भी पढ़े…

Rajasthan Politics: सीएम पद पर अब भी ससपेंस बरकरार,गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष का नहीं लड़ेंगे चुनाव,दिग्विजय कल करेंगे नामंकन
Rajasthan Politics Crisis Live: राजस्थान में सियासी घामासान के बीच अनुराग ठाकुर का राहुल गाँधी पर तंज, कहा- “राजस्थान नहीं संभाल पा रहे राहुल”

By Keshav Malan

यह कलम दिल, दिमाग से नहीं सिर्फ भाव से लिखती है, इस 'भाव' का न कोई 'तोल' है न कोई 'मोल'

Leave a Reply

Your email address will not be published.