Delhi Madarsa News: वक्फ बोर्ड अध्यक्ष का दावा तुफैल चला रहा है अवैध मदरसा...

Delhi Madarsa News: वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष का दावा तुफैल चला रहा है अवैध मदरसा, कहा-“ये है हमारी जमीन”

Delhi Madarsa News

Delhi Madarsa News: एक तरफ जहां असम में अवैध मदरसों पर बुलडोजर की कार्रवाई की जा रही है वहीं यूपी में योगी सरकार अब अवैध मदरसों को लेकर सक्रीय हो गई है। इसे लेकर योगी सरकार ने गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे कराने के आदेश दिए थे और अब उन पर कार्यवाही शुरू भी हो गयी है, लेकिन इसके उलट दिल्ली में अवैध मदरसे दिल्ली सरकार की नाक के नीचे धडल्ले से चलाए जा रहे हैं। साथ ही ऐसा करके मुस्लिम बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। अब आप के विधायक और दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष अमानातुल्लाह खान ने दावा करते हुए कहा कि तुफैल चला रहा है अवैध मदरसा और ये है हमारी जमीन…

Delhi Madarsa News: आप को बता दें कि खबर इडिया की टीम ने निज़ामुद्दीन में चल रहे अवैध मदरसे की ग्रांउंड जीरो से रिपोर्टिंग करते हुए बताया था कि LNDO की सरकारी जमीन पर तुफैल अवैध रूप से मदरसे का संचालन कर रहा है। रिपोर्टिंग के दौरान खुद तुफैल ने बताया था कि ये जमीन LNDO की है लेकिन ये मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

Delhi Madarsa News: अब आप के विधायक और दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष अमानातुल्लाह खान ने कहा कि ” तुफ़ैल नाम का आदमी दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड की ज़मीन को क़ब्ज़ा करके बिना पर्मिशन के मदीना मस्जिद निज़ामुद्दीन के पास मदरसा चला रहा है मदीना मस्जिद और उसके आस पास की सारी ज़मीन वक़्फ़ बोर्ड की है उस सारी ज़मीन को ख़ाली कराने की कारवायी चल रही है ये आदमी इस ज़मीन को LNDO की बताता है।”

अब ये माना जा रहै है कि दिल्ली सरकार और दिल्ली वक्फ बोर्ड तुफैल के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करते हुए जल्द ही कोई कड़ा एक्शन ले सकती है।

ये भी पढे…

Delhi: सरकारी जमीन पर अवैध मदरसे की हकीकत दिखाने पहुंचे रिपोर्टर को बनाया बंधक, संचालक ने बंद कमरे में जमकर की मारपीट
Gyanvapi Maszid Case Decision: ‘श्रृंगार गौरी’ केस मामले में कोर्ट का बड़ा फैसला, ज्ञानवापी केस सुनवाई योग्य, मुस्लिम पक्ष की याचिका खारिज

 

By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.