England:स्मिथविक में मुस्लिमों का प्रदर्शन-मंदिर के दीवार पर चढ़कर लगाए अल्लाह-हू...

England:स्मिथविक में मुस्लिमों का प्रदर्शन-मंदिर के दीवार पर चढ़कर लगाए अल्लाह-हू-अकबर के नारे

England

England: इस्लामिक देशों में अगर हिंदुओं के तीर्थ स्थलों पर हमले हो तो समझा जा सकता है कि वहां के लोग और सरकार दोनों ही हिंदुओं और भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल है और अगर ये मान भी लिया जाए कि वहां कि सरकार शामिल भी न है लेकिन उनका मौन समर्थन जरूर है। पाकिस्तान में तो अक्सर ऐसा सुनने को और देखने को मिल जाता है कि हिंदुओं के ऊपर अत्याचार होता है और कई बार हिंदुओं के मंदिरों पर विशेष संप्रदाय के लोग हमला करके वहां पर स्थित भगवान की मुर्तियों को तोड़ भी देते है।

England: ऐसा ही मामला अगर सबसे आधुनिक देश और करीब करीब पूरे विश्व पर राज करने वाले देश इंग्लैंड में हो तो आप इसको क्ये कहेंगे? ऐसी ही एक घटना इंग्लैंड के स्मिथविक में हुई जहां पर मुस्लिमों ने मंदिर की दीवार पर चढ़कर अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाए। इसके पहले लीसेस्टर शहर में हिंदू-मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच झड़पें हुईं। यहां तनाव अभी भी बना हुआ है।

गौरतलब है कि घटना के चश्मदीद राधारमण दास बताते है कि जब हम सब सो रहे थे, बर्मिंघम में मुसलमानों ने एक और हिंदू मंदिर पर हमला किया, “अल्लाह हू अकबरचिल्लाते हुए मंदिर पर चढ़ गए। उन्होंने पूरे हिंदू पड़ोस को बंधक बना लिया। हिंदुओं को सबक सिखाने के लिए मुसलमानों की इस सभा का खूब प्रचार किया गया, लेकिन यूके पुलिस ने इसे रोकने के लिए कुछ नहीं किया।

England: स्मिथविक शहर में हुए प्रदर्शन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें करीब 200 लोग मुस्लिम स्पॉन लेन स्थित दुर्गा भवन हिंदू मंदिर की ओर बढ़ते हुए दिखाई दे रहे हैं। और कुछ लोग दीवार पर चढ़कर अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाने लगे। मंदीर पर लगे भगवा ध्वज को उखाड़ फेंका।

जब सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने की कोशिश की और साथ ही पुलिस ने वहां पर विशेष संप्रदाय के लोगों से शांति की अपील की। लेकिन, उन पर कोई फर्क नही पड़ा।

England: आप को बता दें कि हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच झड़पों की शुरुआत 28 अगस्त को दुबई में भारत के खिलाफ खेले गए एशिया कप मैच में पाकिस्तान की हार के बाद हुई थी। इसके बाद से ही शांति से प्रदर्शनों की अपील की जा रही है।

सोशल मीडिया पर इसके लिए पोस्टर जारी किए गए हैं। बर्मिंघम वर्ल्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्मिथविक में ‘अपना मुस्लिम’ नाम के एक सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए दुर्गा भवन मंदिर के बाहर ‘शांतिपूर्ण विरोध’ का आह्वान किया गया था।

इससे पहले लीसेस्टर में 6 सितंबर को हिंदू-मुस्लिम विवाद की शुरूआत हुई थी। लीसेस्टर शहर के बेलग्रेव इलाके के मेल्टन रोड पर हिंसा हुई थी। यहां गुस्साए पाकिस्तानी मुसलमानों ने हिंदुओं पर हमला कर दिया था। उस समय पुलिस ने 2 लोगों को हिरासत में ले लिया था।

लीसेस्टर पुलिस के चीफ कॉन्स्टेबल रॉब निक्सन ने बताया था कि लोग धार्मिक इमारत के ऊपर लगे झंडे उतार रहे थे। एक वायरल वीडियो में एक शख्स लीसेस्टर के मेल्टन रोड पर धार्मिक इमारत के बाहर लगे झंडे को हटाते हुए भी दिखाई दिया था।

England: उन्होंने ये भी बताया कि पुलिस को किसी से भी पूछताछ के अधिकार दिए गए
 लीसेस्टर पुलिस ने डिस्पर्सल ऑर्डर जारी किया है। इसके तहत किसी को भी रोका जा सकता है और पूछताछ की जा सकती है। 16 साल से कम उम्र के लोगों से घरों में रहने के लिए कहा गया है। अब तक पुलिस ने इस मामले में 20 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है। चीफ कॉन्स्टेबल रॉब निक्सन के मुताबिक, पुलिस का अभियान अभी जारी रहेगा।

दोनों समुदायों ने हमले के आरोप लगाए 
कुछ हिंदू समूहों का दावा है कि मुस्लिमों की बड़ी आबादी वाले शहर बर्मिंघम से कुछ मुस्लिमों का समूह लीसेस्टर आ रहे हैं और हिंदूओं को धमका रहे हैं।

वहीं मुस्लिम समुदाय ने भी हिंदुओं के उपर भी हमले के आरोप लगाए हैं। एक्टिविस्ट माजिद फ्रीमैन ने भी हिंदूवादी समूहों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने भी  मस्जिद के बाहर धार्मिक नारे लगाए और सड़क पर मौजूद समुदाय के लोगों पर हमले किए।

ये भी पढे…

Raju Srivastav: नहीं रहे काॅमेडी किंग राजू श्रीवास्तव, सबको हंसाने वाला आज सबको रूला गया
Yogi Mandir: भक्त ने बनाया योगी आदित्यनाथ का मंदिर, पूरी श्रृद्धा से करता है पूजा, मोदी और सोनिया का भी है भव्य मंदिर

By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.