Permission will have to be taken before taking out the procession, CM Yogi

जुलूस निकालने से पहले लेनी होगी अनुमति, CM योगी ने बोला परिसर से बाहर न जाये लाउडस्पीकर की आवाज

योगी आदित्यनाथ

लगातार देश में जगह-जगह हिंदू नववर्ष, रामनवमी, हनुमान जन्मोत्सव आदि त्योहारों पर निकलीं शोभायात्रा, जुलूस आदि पर हुए हमलों को नजर में रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा रुख अपनाते हुए कई कड़े फैसले लिए हैं।

जिनमें आला अधिकारियों को  निर्देश देते हुए कहा है कि यूपी में बिना अनुमति के कोई भी जुलूस और धार्मिक यात्रा निकालने पर रोक लगा दी गई है। आयोजकों को जुलूस के दौरान शांति और सौहार्द बनाए रखने के संबंध में शपथ पत्र भी देना होगा। नियमों का उल्लंघन होने पर कठोर कार्रवाई की बात भी कही गई है।

सीएम योगी ने अधिकारियों को ये भी बोला है कि धार्मिक जुलूस की अनुमति उन्हीं आयोजनों में दिए जाएं जो पारंपरिक हों, नए आयोजनों को अभी अनवाश्यक रूप से अनुमति न दी जाए। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

दिशा-निर्देश में कहा गया है कि माइक का प्रयोग किया जा सकता है। लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज़ परिसर से बाहर न जाए, ताकि अन्य लोगों को कोई असुविधा नहीं हो। साथ ही नए स्थलों पर माइक लगाने की अनुमति नहीं देने को बोला है।

दिए गए निर्देशों को सख्ती से लागू करवाने के लिए सीएम योगी ने थानाध्यक्ष, सीओ और पुलिस कप्तान से लेकर जिलाधिकारी, मंडलायुक्त तक सभी अधिकारियों का 4 मई तक का अवकाश तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया है। जो अधिकारी वर्तमान में अवकाश पर हैं, उन्हें अगले 24 घंटे के भीतर तैनाती स्थल पर वापस लौटने को कहा गया है।

यूपी सरकार के मुताबिक आने वाले दिनों में कई महत्वपूर्ण धार्मिक पर्व-त्योहार हैं, रमजान का महीना चल रहा है। ईद और अक्षय तृतीया एक ही दिन होना संभावित हैं। ऐसे में वर्तमान माहौल को देखते हुए पुलिस को अतिरिक्त संवेदनशील रहना होगा।

सर्कुलर जारी करते हुए योगी सरकार ने कहा कि हर एक पर्व शांति और सौहार्द के बीच संपन्न हो, इसके लिए स्थानीय जरूरतों के दृष्टिगत सभी जरूरी प्रयास किए जाएँ। शरारतपूर्ण बयान जारी करने वालों के साथ कड़ाई से पेश आएँ। माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता के साथ कार्यवाही की जाए।

ये भी पढ़ें..

जहांगीरपुरी में हिंदू लड़ककियों का सड़क पर निकलना मुश्किल, चश्मदीदों ने दर्द किया बयां

खरगोन हिंसा: बच्चे की खोज में निकली माँ लापता, परिजनों ने पुलिस के साथ ही RSS के स्थानीय कार्यकर्ताओं से भी खोजने की लगाई गुहार

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.