Blind Faith: तांत्रिक के चंगुल में फंसी युवती को मिली जान गंवाकर मुक्ति, हड़पे लाखों रूपये

अभिलाषा का फाइल फोटो

Blind Faith: देश की अधिकतर जनता अंधविश्वास का शिकार होती रहती है। उसका खामियाजा कितना औऱ कैसे भुगतना पड़ता है, इसका कोई आंकलन नहीं किया जा सकता। देश में बैठे कथित तांत्रिक लोगों को बहकाकर अपने चंगुल में फंसाते हैं औऱ उनको फिर अंधविश्वास की अफीम चटाकर धन लूटना शुरू कर देते हैं। कई बार तो अंधविश्वास में फंसे लोगों जान तक गंवानी पड़ जाती है।

ऐसा ही हुआ यूपी नोएडा के सेक्टर डेल्टा-टू निवासी 37 वर्षीय अभिलाषा के साथ जब उसने ऑनलाइन उपचार ढूंढा तो वह दिल्ली के कथित तांत्रिक के संपर्क में आ गई। आरोपी तांत्रिक उपचार और तंत्र विद्या के नाम हर माह अभिलाषा से रुपये ऐंठता रहा। साथ ही अभिलाषा की 27 लाख रुपये की एफडी भी हड़प ली। गलत खानपान के कारण युवती का वजन 200 किलो हो गया और वह चलने फिरने की भी मोहताज हो गई। तबीयत बिगड़ने पर पिछले साल सितंबर में अभिलाषा की मौत हो गई।

स्थानीय निवासी संतोष ने क्या बताया?

डेल्टा-टू निवासी संतोष ने बताया, कि वह परिवार के साथ दिल्ली में रहती। वर्ष 2012 में बीमारी की वजह से पति की मौत हो गई। इससे परिवार वाले परेशान थे। छोटी बेटी अभिलाषा को घर में कुछ गड़बड़ होने का अंधविश्वास हो गया। इस वजह से वह ऑनलाइन उपचार ढूंढने लगी और संजय नगर (दिल्ली) संजय के संपर्क में आ गई।

Blind Faith: संजय ने बेटी से कहा कि उनके दिल्ली स्थित घर में आत्म का वास है, इसके लिए पूजा करनी होगी। आरोपी ने पूजा करने का झांसा देकर अभिलाषा को वश में कर लिया है। इसके बाद आरोपी जैसा कहता बेटी वैसा ही करती। बेटी के कहने पर घर में कर्मकांड के लिए संजय को 8,000 रुपये प्रतिमाह का वेतन देना शुरू कर दिया।

संजय विशेष कर्मकांड की बात कहकर एक दिन 50 हजार रुपये तक ऐंठ लेता था। एक प्लॉट बेचकर बेटी के नाम एफडी कराई थी। एफडी को तुड़वाकर आरोपी ने 27 लाख रुपये ऐंठ लिए। वहीं, संतोष का कहना है कि उसकी और दूसरी बेटी की तबीयत भी खराब रहती है और बेटा भी डिप्रेशन में है।

तांत्रिक ने कमजोर बताकर बढ़ा दिया वजन

अभिलाषा को शारीरिक रूप से कमजोर बताकर आरोपी आयुर्वेदिक दवा और फल का अत्यधिक सेवन कराने लगा। इससे युवती का वजन तेजी से बढ़ने लगा। इसके बाद वजन कम करने का झांसा देकर आरोपी ने अभिलाषा को अदरक, शहद और फ्रूटी आदि के सेवन की सलाह दी।

Blind Faith:पहले युवती का वजन 65 किलो था, फिर 90 किलो हुआ लेकिन अंतिम चार माह में उसका वजन वजन लगभग 200 किलो हो गया। मोटापे की वजह से वह चल फिर नहीं पाती थी और एक जगह ही लेटी रहती थी। सात सितंबर 2021 को उसकी हालत बिगड़ने पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। अगले दिन उसने दम तोड़ दिया।

ये भी पढ़ें..

Daughter Marriage: माँ की गुहार, जीवन भर बंधुआ मजदूर बनकर काम करूंगी साहब बस मेरी बेटी की शादी कर दीजिए

Assam: मदरसे में चलती थी आतंक की पाठशाला, असम सरकार का चला बुलडोजर

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️