Human Trafficking: कई बार बाजार में बिकी झेलती रही दुष्कर्म, अब दोषियों को सजा दिलाने का ऐलान

victim

Human Trafficking: एक छोटी सी उम्र में तमाम तरह की पीड़ा झेलने के बाद अगर कोई लड़की दोबारा अपना भविष्य बनाने की पटरी पर लौटती है तो ये बहुत ऐसी लड़कियों के लिए प्रेरणा होगी, जो अश्लील पीड़ा का दंश झेलने के बाद आज समाज में अपना स्थान खो चुकी हैं या फिर आत्महत्या कर अपना जीवन बर्बाद कर लिया और लगातार दुष्कर्मियों के चंगुल में फंसकर लड़कियां शोषण का शिकार हो रही हैं। ऐसा ही हुआ कोलकाता में जब बहकावे में आकर एक लड़की को 3 बार बेचा गया अनगिनत बार दुष्कर्म किया गया, लेकिन उसके बाद भी वही लड़की प्रेरणा बन गई।

क्या है पीड़िता की कहानी?

पश्चिम बंगाल सीआईडी के एक अधिकारी के मुताबिक जब वह किशोरी थी, जब मानव तस्करों ने चार महीनों में अलग-अलग राज्यों में उसे तीन बार बेचा और इस दौरान कई पुरुषों ने उससे दुष्कर्म किया। राज्य में सीआईडी की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट के एक अधिकारी ने बताया, कि पीडि़ता की सात जनवरी, 2015 को कोलकाता की साइंस सिटी में राहुल से मुलाकात हुई, जो उसे बिहार की बस पकडऩे के लिए बाबूघाट ले गया।

3 बार बेचा गया, अनगिनत बार हुआ दुष्कर्म

राहुल वापस लौटने का वादा कर लड़की को बस में अकेला छोड़ गया और पीडि़ता को बाद में पता चला, कि राहुल ने उसे डेढ़ लाख रुपये में किसी अन्य व्यक्ति को बेच दिया था। राहुल का मित्र होने का दावा करने वाला व्यक्ति उसे बाद में ट्रेन से बिहार लेकर गया और उसने उसे कमल नाम के एक अन्य व्यक्ति को बेच दिया, जो पीडि़ता को उत्तर प्रदेश के बिजनौर में चित्रा नाम की एक महिला के पास लेकर गया।

Human Trafficking: आगे अधिकारी ने बताया कि पीडि़ता को खरीदने वाली तीसरी व्यक्ति चित्रा ने उसकी अपने 45 साल के भाई से जबरन शादी करा दी। इसके बाद चित्रा के बेटे लव ने कई बार पीडि़ता से दुष्कर्म किया। इसी बीच पीडि़ता को चित्रा के मोबाइल फोन से अपनी माँ को फोन करने का मौका मिल गया और उसने उसे बताया कि वह कहाँ है।

आगे सीआईडी अधिकारी ने बताया, कि चित्रा डर गई और उसने कमल से नाबालिग पीडि़ता को ले जाने को कहा। इसके बाद कमल और उसका सहयोगी भीष्म उसे उत्तराखंड के काशीपुर ले गए। उन्होंने बताया कि जब कमल और भीष्म को पता चला कि चित्रा और लव को गिरफ्तार कर लिया गया है, तो उन्होंने गुस्से में पीडि़ता से कई बार दुष्कर्म किया और वे उसे काशीपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर छोडक़र चले गए। पश्चिम बंगाल पुलिस ने राहुल को भी बिहार में गिरफ्तार कर लिया।

दुष्कर्म पीडिता सदमे से उबरने की रही है कोशिश

Human Trafficking: कोड़ियों के दाम बेचे गये जिस्म के बाद बर्बाद हुई जिंदगी को संभालने के लिए पीडिता सदमे से उबरने की कोशिश कर रही 22 साल की एक युवती ने बंगाल में उच्चतर माध्यमिक परीक्षा पास की है। अब वह कालेज जाने के लिए तैयारी कर रही है। पीडिता के ऐलान के बाद पुलिस ने आरोपियों को सजा सुना दी है।

जिसमें पीडि़ता के प्रेमी राहुल समेत छह आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। पीडि़ता को उत्तराखंड में बचाया गया था। उत्तर 24 परगना जिले के बारासात में पॉक्सो अदालत ने छह आरोपितों को दोषी ठहराया। इनमें से चित्रा और राहुल को दस-दस साल कैद और चित्रा के भाई कमल, लव, भीष्म और एक अन्य दोषी को 20-20 साल कैद की सजा सुनाई गई।

ये भी पढ़ें..

Al-Qaeda: पढ़िए इंजीनियर ओसामा बिन लादेन से लेकर आई सर्जन यमन अल-जवाहिरी के खात्मा तक की कहानी

Al-Qaeda: चीफ अल-जवाहिरी को अमेरिका ने ड्रोन हमले में मार गिराया, राष्ट्रपति बाइडेन ने ट्वीट कर दी जानकारी

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️