PFI Ban: पीएफआई बैन पर बोलीं साध्वी प्राची अब वक्फ बोर्ड की बारी..

PFI Ban: पीएफआई बैन पर बोलीं साध्वी प्राची अब वक्फ बोर्ड की बारी

Sadhvi prachi

PFI Ban: एनआईए की लगातार छापेमारी के बाद पीएफआई इन दिनों देश में बेहद चर्चा में है। देश के करीब 22 राज्यों से भारी संख्या में पीएफआई के सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली के शाहीन बाग से 30 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पीएफआई पर देशविरोधी एजेंडा चलाने के आरोप लगे हैं, साथ ही पीएफआई पर भारत को सन 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने का भी आरोप है।

अब देशविरोधी गतिविधि पाये जाने के बाद सरकार ने पीएफआई को बैन कर दिया है। जिस पर कई बड़े नेता इस एक्शन को सही ठहरा रहे हैं और सरकार के इस आदेश का स्वागत भी कर रहे हैं। जिसको लेकर वीएचपी फायरब्रांड नेत्री साध्वी प्राची ने पीएफआई को आतंकवादी संगठन बताने के साथ ही वक्फ बोर्ड पर कड़े एक्शन की सरकार से मांग की है। सरकार के पीएफआई बैन के आदेश को आदित्यनाथ योगी ने स्वागत किया है, कहा ये नया भारत है।

साध्वी प्राची ने ऐसा क्यों बोला?

2013 के मुजफ्फरनगर मामले में कोर्ट पहुँची वीएचपी की फायरब्रांड नेत्री साध्वी प्राची ने पीएफआई को लेकर बयान देते हुए पीएफआई को एक आतंकवादी संगठन बताया और कहा कि इसके बैन के बाद सरकार को वक्फ बोर्ड व मदरसों पर कड़ा एक्शन लेना चाहिए। यूपी में जो भाई योगी जी कर रहे हैं, वह देश के हित में होगा राष्ट्र हित में होगा और वह राष्ट्रहित में कार्य कर रहे हैं। आगे यह भी कहा कि मुसलमानों की आवाज उठाने से कोई नहीं रोक रहा है मगर पीएफआई के जो पाकिस्तान से संबंध मिल रहे हैं उसका क्या होगा? हम हिंदू भाइयों के लिए आवाज उठाते हैं तो उन्हें भी उठानी चाहिए लेकिन आतंकवादियों का समर्थन करना आतंकवादी बनना आतंकवादियों का प्रशिक्षण करना यह देश में अब नहीं चलेगा।

पीएफआई बैन के बाद योगी क्या बोले?

PFI Ban: पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर खुशी जताई है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उसके अनुषांगिक संगठनों पर लगाया गया प्रतिबंध सराहनीय एवं स्वागत योग्य है। यह ‘नया भारत’ है, यहां आतंकी, आपराधिक और राष्ट्र की एकता व अखंडता तथा सुरक्षा के लिए खतरा बने संगठन एवं व्यक्ति स्वीकार्य नहीं।

ये भी पढ़ें..

PFI: दिल्ली के शाहीनबाग से 30 संदिग्ध गिरफ्तार,माहौल को देखते हुए अर्द्धसैनिक बल तैनात

Up News: औरेया के छात्र की मौत का पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा, शिक्षक के पीटने से नहीं सेप्टीसीमिया की वजह से हुई मौत

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.