Up News: मथुरा का बांके बिहारी मंदिर होगा भव्य कॉरिडोर में तब्दील, 70 हजार भक्त एक साथ कर सकेंगे दर्शन

Banke bihari mandir

Up News: मथुरा के वृंदावन में स्थित बांके बिहारी मंदिर ले जाने वाली गलियां बेहद सकरी हैं साथ ही मंदिर परिसर भी बहुत छोटा होने के कारण श्रध्दालुओं को दर्शन करने में काफी परेशानी होती है। यही कारण है, कि जन्माष्टमी के दिन हुई मंगला आरती में श्रध्दालुओं की ज्यादा भीड़ बढ़ने के कारण लोगों की सांसे थम सी गईं थीं और ज्यादा भीड़ के कारण मची भगदड़ में दो लोगों की मौत हो गई थी, साथ ही 20 से ज्यादा लोग घायल भी हुये थे।

इसी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के कद्दावर मंत्री चौ. लक्ष्मी नारायण ने ऐलान किया, कि मथुरा में काशी से बड़ा बांके बिहारी का कॉरिडोर बनेगा। उन्होंने बताया कि पिछले दो कैबिनेट बैठकों में बांके बिहारी मंदिर कॉरिडोर मुद्दे पर मुख्यमंत्री से चर्चा हो चुकी है।हालांकि पिछले काफी दिनों से दर्शन करने वृंदावन पहुंच रहे श्रध्दालुओं की मांग थी, कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर बांके बिहारी मंदिर कॉरिडोर की भी स्थापना होनी चाहिए।

काशी विश्वनाथ से भी बड़ा बनेगा बांके बिहारी मंदिर कॉरिडोर

Up News: जन्माष्टमी के अवसर पर मंगला आरती के दौरान भीड़ के चलते हुए हादसे में दो लोगों की मौत हो गई थी, उसी शाम मंत्री चौ लक्ष्मी नारायण बांके बिहारी मंदिर पहुंचे और मंदिर के गोस्वामियों से बातचीत की थीं।तभी से तेज हुई कॉरिडोर की मांग पर मंत्री लक्ष्मी नारायण ने कहा कि पिछले दो केबिनेट बैठकों में मुख्यमंत्री जी से यहां पर विशाल कॉरिडोर बनाए जाने पर चर्चा हो चुकी है। उन्होंने बताया कि यहां से जमुना जी तक विशाल कॉरिडोर का निर्माण कराया जाएगा।

यह कॉरिडोर बाबा विश्वनाथ से भी बड़ा होगा, जिसमें एक बार में 60 से 70 हजार श्रद्धालु एक बार में दर्शन कर सकेंगे। मिल रही जानकरी के मुताबिक इस कॉरिडोर के निर्माण में 250 करोड़ से अधिक की लागत आएगी। जानकारी के मुताबिक इसका खर्च बांके बिहारी ट्रस्ट ही वहन करेगा। आगे मंत्री ने कहा कि इस घटना की तह में जाने के बाद सारे मामले की रिपोर्ट मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे। साथ ही भविष्य में इस तरह की घटना न हो उसके सारे प्रबंध भी किए जा रहे हैं। जिसके लिए जिला प्रशासन, गोस्वामी समाज व मंदिर प्रबंधन से सुझाव लिए जायेंगे।

Up News: आपको बता दें, हादसे को लेकर लक्ष्मी नारायण ने कहा, कि इतिहास में पहली बार जन्माष्टमी के अवसर पर 50 लाख से अधिक भक्त बृज भृमण पर पहुंचे थे। बांके बिहारी मंदिर की गलियां सकरी होने के कारण मोटर साईकिल भी नहीं निकल सकतीं, हादसे के दौरान एम्बुलेंस मौके पर पहुंचना तो बहुत बड़ी बात है। उन्होंने इतना जरूर कहा कि हादसे की जांच में जिसकी भी कमी पाई जायेगी, उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

ये भी पढ़ें..

USA: योगी के बुलडोजर से अमेरिका में मचा हड़कंप, बताया अल्पसंख्यकों को डराने का प्रतीक

NDTV: अडाणी ग्रुप की 29 फीसदी हिस्सेदारी के बाद रवीश कुमार के इस्तीफा देने की चर्चाओं का बाजार गर्म, बनने लगे मीम्स

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️