England: पालतू कुत्ते ने मालकिन के साथ किया ऐसा काम, अस्पताल में होना पड़ा भर्ती..

England: पालतू कुत्ते ने मालकिन के साथ किया ऐसा काम, अस्पताल में होना पड़ा भर्ती

अमैंडा गोमो

England: आपने तरह-तरह की अजीबोगरीब घटनाओं को सुना होगा, लेकिन इंग्लैंड से आई इस खबर ने पूरी दुनिया को चौंका दिया है। जानवर पालना और उनसे प्यार करना आम बात है, लेकिन वो प्यार कितनी हद तक होना चाहिए ये सोचना जरूरी बन जाता है। आज के दौर में अधिकतर घरों कुत्ता, बिल्ली, घोड़ा आदि शौक के लिए पाले जा रहे हैं। कुत्ता, बिल्ली को लोग अपने साथ खिलाते हैं, अपने साथ सुलाते हैं। लेकिन ये भूल जाते हैं, कि आखिर जानवर, जानवर ही होते हैं। एक 51 वर्षीय महिला के साथ ऐसा हुआ, कि आप जानकर खुद हैरान हो जायेंगे। पालतू कुत्ता ने महिला के साथ में ऐसा काम किया, अस्पताल जाकर भर्ती होना पड़ा। इसीलिए जानवरों से प्यार दुलार खूब करें लेकिन उचित दूरी बनाकर।

महिला क्यों हुई अस्पताल में भर्ती?

इंग्लैंड के ब्रिसल में 51 वर्षीय अमेंडा गोमो नाम की महिला अपने 3 बच्चों के साथ रहती हैं। उनकी बेटी ने बेले नाम का एक कुत्ता पाल रखा है। जो चुवावा ब्रीड का है, इन कुत्तों का आकार बहुत छोटा होता है। जो कि बीमार चल रहा था, अमेंडा गोमो ने बेले को अपने पास बिस्तर पर सुला लिया और महिला सो गई। फिर कुत्ते ने क्या किया आपको बताते हैं। जैसे महिला को नींद आई तो उस दौरान महिला का मुँह खुल गया औऱ कुत्ते ने महिला के मुँह में मल (पॉटी) त्याग दिया। उसे गीला-गीला पदार्थ महसूस हुआ तो महिला की आंखें खुल गईं, पता चला कि कुत्ते ने उसके मुँह में मल त्याग दिया है।

England: ये जानते ही महिला बाथरूम की ओऱ भागी तो उस वक्त बेटा नहा रहा था, जिसकी वजह से मुँह धोने में कुछ वक्त लग गया और गंदगी उनके मुँह से होते हुए पेट तक चली गई। उन्होंने कई बार मुँह धुला, ब्रश किया मगर उनके मुँह से गंदगी की दुर्गंध और उसका बुरा स्वाद नहीं जा रहा था। उनकी बेटी फौरन कुत्ते को डॉक्टर के पास लेकर गई तो उन्होंने बताया कि उसे बैक्टीरियल इंफेक्शन हो गया है। तब डॉक्टर ने कुत्ते को एंटीबायोटिक्स दीं।

कुत्ते जैसे हो गये थे महिला के लक्षण

England: महिला अमैंडा के लक्षण भी कुत्ते जैसे ही हो गए थे, यानी उनका भी तुरंत पेट खराब हो गया और उन्हें कई बार बाथरूम जाना पड़ा। तब वो भी डॉक्टर के पास गईं और कुछ दवाएं ले आईं। मगर उनका इंफेक्शन इतना ज्यादा बढ़ गया था, कि उनकी तबीयत बिगड़ती जा रही थी। तब उन्हें तुरंत एंबुलेंस के जरिए अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें ड्रिप चढ़ी और 3 दिनों तक अस्पताल में रहना पड़ा। महिला को कुत्ते की गंदगी की वजह से गैस्ट्रो इंटस्टाइनल इंफेक्शन हो गया था।

ये भी पढ़ें..

Sale: फ्लिपकार्ट से मंगाया लैपटॉप, बॉक्स खोलने पर निकला घड़ी साबुन, कंपनी ने वापसी के लिए किया इंकार

Up News: शिक्षक की पिटाई से दलित छात्र की 18 दिन बाद मौत, प्रदर्शन के दौरान पुलिस की गाड़ी फूंकी

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.