Periods: माहवारी के दौरान महिलाओं को रखना चाहिए इन खास बातों का ध्यान

periods

Periods: इस समय एक महिला काफी खून बहाती है। इस समय के हाइजीन का ध्यान रखना भी काफी जरूरी होता है और यह भी पता होना चाहिए की अगर ज्यादा तेज और गंभीर लक्षण देखने को मिलते हैं तो क्या करना चाहिए? महिलाओं को पीरियड्स के दौरान अपना ख्याल रखने की आवश्यकता होती है, मुख्य रूप से इस समय उन्हें अपने आहार पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

पीरियड्स के दौरान शरीर में काफी कमजोरी महसूस हो सकती है, इसीलिए इस समय पोष्टिक आहार ही लेना चाहिए, जो शरीर को बेहतर पोषण प्रदान करने के साथ दर्द में भी कारगर होता है। ऐसे समय में आपको तली हुई बाज़ार की चीजें जैसे फास्ट फूड या जंक फ़ूड, पैक्ड फूड या अन्य अधिक मसालों वाली चीजों से परहेज़ करना चाहिए।

इन दिनों क्या नहीं करना चाहिए?

  • जंक फूड और बाहर का खाना खाने से भी बचने की कोशिश करनी चाहिए।
  • बार-बार कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। रोजाना एक कप से ज्यादा कॉफी न पिए।
  • हीटिंग पैड का प्रयोग करना आरामदायक हो सकता है, लेकिन इससे पेट बुरी तरह प्रभावित होता है।
  • इस समय असुरक्षित (अन प्रोटेक्टेड) सेक्स नहीं करना चाहिए, इससे इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।
  • शराब का सेवन करना भी काफी कम कर दें।

पीरियड्स में करना चाहिए?

  • खुद को हाइड्रेट रखें और दिन भर में खूब पानी पिएं।
  • ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन का सेवन करना चाहिए।
  • गर्म गर्म पानी में नहा सकती हैं क्योंकि इससे काफी चैन और रिलैक्स मिलता है।
  • गर्म पानी के कारण दर्द में भी थोड़ी बहुत राहत मिल सकती है।
  • शारीरिक गतिविधि या लाइट एक्सरसाइज के जरिए खुद को एक्टिव रखें। इससे एनर्जी मिलती रहेगी, मूड भी खुश रहेगा और दर्द में भी राहत मिल सकती है।
  • डार्क चॉकलेट का सेवन कर सकती हैं। इससे क्रेविंग भी शांत होंगी। इससे लक्षण कम होने में भी काफी मदद मिलती है।

Periods: इस समय पीरियड के दौरान शरीर में अकड़न होना और थकान होना जैसे लक्षण आमतौर पर देखे जा सकते हैं। यदि इस समय सही जानकारी न हो तो यह संघर्ष और भी ज्यादा बढ़ सकता है, इसलिए पीरियड्स से जुड़ी सही जानकारी हर महिला के पास होनी चाहिए। कुछ महिलाएं इस समय जाने अनजाने में कुछ गलतियां कर देती हैं जिनके कारण दुख भुगतना पड़ सकता है।

ये भी पढ़ें..

HIV Positive: लॉकडाउन में कोरोना से बचे तो HIV ने घेरा, असुरक्षित सेक्स से भारत में 85000 संक्रमित, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस

HIV: पॉजिटिव लोगों के लिए आशा की नई किरण, ‘छूने से एड्स नहीं प्यार फैलता है’

 

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️