Agnipath: हिंसक प्रदर्शन करने वाले नहीं बन पायेंगे अग्निवीर और न ही योजना होगी वापिस

defence officer

Agnipath: अग्निपथ भर्ती योजना को लेकर देश भर में चल रहे बवाल के बीच रक्षा मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। जिसमें साफ हो गया कि अग्निपथ योजना वापस नहीं ली जाएगी और यह भी हो गया कि सभी भर्तियां इसी योजना के तहत होंगी। 25 हजार अग्निवीरों का पहला बैच दिसंबर में आर्मी जॉइन कर लेगा।पुरी ने कहा कि युवा फिजिकली तैयार हों, ताकि वह हमारे साथ जुड़कर ट्रेनिंग कर सकें। हमने इस योजना को लेकर हाल में हुई हिंसा का अनुमान नहीं लगाया था। सशस्त्र बलों में अनुशासनहीनता के लिए कोई जगह नहीं है। सभी को लिखित में देना होगा कि वे किसी भी तरह की आगजनी व हिंसा में शामिल नहीं थे।

कोचिंग संचालकों ने युवाओं को भड़काया

यूपी के अलीगढ़ में अग्निपथ के विरोध में हुए उपद्रव में कोचिंग संचालकों का हाथ पाया गया है, जिसमें पुलिस ने कार्रवाई करते हुए संचालकों के साथ अन्य उपद्रवियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा कि अग्निपथ के विरोध में कोचिंग इंस्टीट्यूट चलाने वालों ने छात्रों को भड़काकर प्रदर्शन कराया है। उन्होंने कहा कि अग्निवीर बनने वाला शपथपत्र देगा कि उसने कोई प्रदर्शन नहीं किया है न तोड़फोड़ की। बिना पुलिस वेरिफिकेशन के कोई सेना में शामिल नहीं होगा।

दो दिनों तक लगातार चली बैठक

Agnipath: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर तीनों सेना प्रमुखों की बैठक हुई थी। इस बैठक में अग्निपथ योजना को लागू करने और आंदोलनकारियों को शांत करने के तरीकों पर चर्चा हुई थी। योजना को लेकर राजनाथ सिंह द्वारा दो दिनों में बुलाई गई यह दूसरी समीक्षा बैठक थी। इस दौरान भारतीय नौसेना की ओर से कहा गया कि 21 नवंबर से पहला नौसैनिक अग्निवीर बैच ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, आईएनएस चिल्का, ओडिशा में पहुंचना शुरू हो जाएगा।

इसके लिए महिला और पुरुष दोनों अग्निवीरों को जाने की अनुमति होगी। भारतीय नौसेना के पास वर्तमान में विभिन्न भारतीय नौसेना के जहाजों पर 30 महिला अधिकारी हैं। वाइस एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने कहा कि हमने तय किया है कि अग्निपथ योजना के तहत महिलाओं की भी भर्ती होगी जिन्हें युद्धपोतों पर भी तैनात किया जाएगा।

आने के बाद से अब तक क्या-क्या हुए बदलाव?

मौजूदा साल में अग्निवीर की आयु सीमा 21 से बढ़ाकर 23 कर दी गई है।

इंडियन कोस्ट गार्ड, डिफेंस सिविलियन पोस्ट के साथ डिफेंस पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग की 16 कंपनियों में भी नियुक्तियों में आरक्षण मिलेगा।

अग्निवीरों को रिटायरमेंट के बाद सस्ता लोन दिया जाएगा और सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता दी जाएगी।

CAPF और असम राइफल्स में अग्निवीरों के लिए 10% आरक्षण।

ये भी पढ़ें..

Agnipath: अलीगढ़ में हुए उपद्रव के आरोप में 9 कोचिंग संचालक गिरफ्तार

Agnipath Scheme:’अग्निवीरों’ के विरोध के आगे झुकी सरकार, राजनाथ सिंह ने कहा-‘अग्निवीरों’ को मिलेगा 10% आरक्षण

 

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️