Agnipath Live Update: अग्निपथ स्कीम के विरोध में सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारियों..

Agnipath Live Update: अग्निपथ स्कीम के विरोध में सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारियों ने काटा बवाल, ट्रेन में भी लगाई आग

Agnipath

Agnipath Live Update: केन्द्र सरकार द्वारा सेना में लाई गई अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। प्रदर्शनकारी बिहार से लेकर गुरूग्राम, हरियाणा, राजस्थान तक रेल की पटरियों व सड़को पर उतरकर बवाल काट रहे हैं। कई जगह रेल व सड़क मार्गों को रोककर व आगजनी कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। स्कीम के खिलाफ में विरोध प्रदर्शन तेज होता जा रहा है। छात्र इस अग्निपथ योजना को वापिस लेने की सरकार से मांग कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने बिहार के भभुआ पटना इंटरसिटी ट्रेन के अंदर भी आग लगा दी है।

चार साल बाद का रास्ता पूछ रहे छात्र

स्कीम के खिलाफ विरोध कर रहे छात्रों का कहना है, कि हम कड़ी मेहनत कर सेना में भर्ती होते हैं। चार साल बाद हम कहाँ जायेंगे?  चार साल बाद हम बेघर हो जायेंगे इसीलिए हम सड़कों पर उतरे हैं। आगे कहा कि नेताओं को समझना चाहिए कि जनता जागरूक हो चुकी है।

बिहार के तमाम शहरों में प्रदर्शन

बिहार के जहानाबाद, बक्सर, आरा, सहरसा, नवादा और मुंगेर में सुबह से उग्र युवा हिंसक प्रदर्शन कर रहे हैं। सभी स्थानों पर उग्र छात्रों ने रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है और ट्रेनों की आवाजाही पर व्यापक असर पड़ा है। आरा में सबसे ज्यादा उग्र प्रदर्शन देखने को मिल रहा है जहाँ पर छात्र रेलवे स्टेशन पर सुबह से पथराव कर रहे हैं।

Agnipath Live Update: मुंगेर में भी अग्निपथ को लेकर सड़कों पर आगजनी की गई और सड़क को जाम किया गया। सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने साफिया सराय भागलपुर-पटना एनएच 80 पर बैरिकेडिंग लगाकर सड़क जाम कर दी। नाराज अभ्यर्थियों के द्वारा विरोध प्रदर्शन में आरजेडी के कई स्थानीय नेता भी उनका समर्थन करते दिखे।

आपको बता दें कि हरियाणा के गुरूग्राम में दिल्ली-जयपुर हाई-वे को रोक युवाओं ने विराध प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि पिछले 3 वर्षों में कोई भर्ती नहीं की गई है और अब सिर्फ चार साल की भर्ती की जायेगी।

ये भी पढ़ें..

Agnipath: 6.9 लाख के सलाना पैकेज के साथ सेना में युवाओं को 4 साल की सेवा देने का मिल गया मौका

Agniveer: युवाओं को सेना में 4 साल तक सेवा देने का मिलेगा मौका, अगले हफ्ते लग सकती है मुहर

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.