अलीगढ़: प्रियंका शर्मा ने मुंह दिखाई में सांसद से मांगा गांव का पक्का रास्ता, सांसद बोले

अलीगढ़: प्रियंका शर्मा ने मुंह दिखाई में सांसद से मांगा पक्का रास्ता, सांसद बोले “एक महीने में पूरा कर दूंगा बेटी से किया हुआ वायदा”

MP satish gautam

अलीगढ़: ‘पढ़ी लिखी लड़की, रोशनी घर की’ इस वाक्य को आपने सुना ही होगा, लेकिन इसे सार्थक किया है अलीगढ़ जिले के खैर क्षेत्र के गांव कसीसों निवासी प्रियंका शर्मा उर्फ बबली ने। यहां नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद देने पहुंचे अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम ने जब मुंह दिखाई में बहू को एक लिफाफा भेंट किया तो इसे बहू ने लेने से इंकार कर दिया औऱ कहा “अंकल हमें लिफाफा नहीं अपने गांव की सड़क चाहिए जो बदहाल पड़ी हुई है।“ नई नवेली इस बहू की मांग को सुन सांसद दंग रह गए और कहा “ठीक है मैं स्वीकार करता हूं और वायदा करता हूं कि इस सड़क को एक महीने में बनवा दूंगा।“

दरअसल खैर क्षेत्र के गांव कसीसों निवासी नवीन शर्मा के इकलौते बेटे दिपांशू शर्मा की शादी दो मई को हाथरस जिले के बमनई गांव की प्रियंका शर्मा उर्फ बबली से हुई थी। इसका निमंत्रण सांसद सतीश गौतम के पास भी पहुंचा था, लेकिन व्यस्तता के चलते सांसद इस शादी में नहीं पहुंच सके। इसके बाद 7 मई को सांसद सतीश गौतम गांव कसीसों में नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद देने के लिए पहुंचे।

जोड़े को आशीर्वाद देने और फोटो कराने के बाद सांसद ने बहू को मुंह दिखाई में जैसे ही लिफाफा हाथ में सौंपा ऐसे ही प्रियंका शर्मा ने लिफाफा लेने से इंकार कर दिया और कहा कि अंकल जी हमें लिफाफा नहीं हमारे गांव का रास्ता पक्का करा दीजिए। इसके बाद सांसद ने बेटी को एक महीने में रास्ता पक्का कराने का वादा किया। इतना ही नहीं सांसद ने इसके बाद दशकों से बदहाल पड़े रास्ते का दौरा किया और तत्काल रास्ते को पक्का कराने के लिए ठेकेदार को आदेश दिया।

वहीं बहू प्रियंका शर्मा की यह पहल गांव में कोतूहल और जिले में चर्चा का विषय बनी हुई है। खैर कस्बा से करीब 5 किलोमीटर दूर सोमवार दोपहर को जब गांव कसीसों में खबर इंडिया के रिपोर्टर रोहित अत्री पहुंचे तो उन्होंने देखा कि हर किसी की जुबां से नई बहू प्रियंका शर्मा के फैसले की तारीफ हो रही थी। जब उन्होंने गांव में घूमते हुए देखा और लोगों से बात की तो जानकारी मिली कि करीब 6 हजार की आबादी वाले गांव के अधिकांश रास्ते पक्के मिले।

सिर्फ हनुमान मंदिर का मुख्य मार्ग ही बदहाल मिला जो कि करीब 150 मीटर का है, जिसे पक्का कराने के लिए मुंह दिखाई में प्रियंका शर्मा ने सांसद से मांग की। इस रास्ते पर करीब 18 घर हैं जो कि इससे पीड़ित हैं साथ ही यह गांव का प्रमुख मार्ग है जो कि गांव कसीसों से निकलते हुए गांव सधना, पचेहरा, फतेहगढ़ी, मीरपुर होते हुए जिला मथुरा के सुरीर, मांट और राया व मथुरा तक पहुंच जाता है। ग्रामीणों के मुताबिक यह रास्ता आज तक किसी ने पक्का नहीं कराया इसके लिए कई बार ग्राम प्रधान सहित अन्य जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया गया लेकिन आज तक किसी ने नहीं सुना।

Khair Aligarh
गांव कसीसों का बदहाल रास्ता

मंदिर में पूजा करने जाते समय बदहाल रास्ते को देख ठनक गया था प्रियंका शर्मा का माथा

अलीगढ़: प्रियंका शर्मा ने खबर इंडिया से खास बातचीत करते हुए कहा कहा कि जब मैं मंदिर पूजा करने के लिए कीचड़ से होकर गुजरी तो मुझे बहुत बुरा लगा। जब मुझे पता चला कि आज सांसद जी हमारे घर आने वाले हैं तो मैंने उनसे सामने इस प्रस्ताव को रखने का मन बनाया। वहीं हाथरस के मुरसान क्षेत्र के गांव बमनई निवासी प्रियंका शर्मा के पिता संत कुमार दीक्षित उर्फ बंटी शर्मा ने कहा कि मुझे गर्व है बेटी ने समाजहित का मुद्दा उठाया है मीडिया में खबर आने के बाद से जानने वाले और रिश्तेदारों के फोन आ रहे हैं सभी ने बेटी की तारीफ करते हुए उसे बधाई दी है।

आजादी के 7 दशकों के बाद अगर ये रास्ता पक्का बनता है को हम सांसद से ज्यादा बहू प्रियंका के आभारी रहेंगे। इसके लिए हमने कई बार ग्राम प्रधान से लेकर जनप्रतिनिधि से इसे बनवाने के लिए कहा लेकिन आज तक किसी ने नहीं सुनी- गोपालदत्त, ग्रामीण

ग्राम प्रधान चाहता तो इस रास्ते का बनवा सकता था। नेताओं पर भरोसा नहीं है जब तक रास्ता पक्का नहीं बन जाता। इस गांव के मर्दों को धिक्कार है कि वह इस रास्ते के लिए आवाज नहीं उठा सके। मुझे गर्व है एक महिला ने जिम्मेदारी के साथ यह आवाज उठाई है- उज्ज्वला शर्मा

निजी स्वार्थ के लिए 95 प्रतिशत जनता घूम रही है चाहती तो बहू मुंह दिखाई में सांसद से लिफाफा भी ले सकती थी, लेकिन उसने शिक्षित होने का परिचय देते हुए सांसद से लिफाफा नहीं लिया और समाज के लिए पक्का रास्ता मांगा मुझे गर्व है अपनी पुत्रवधू पर- भोलू शर्मा, ससुर

गांव की बहू ने मुंह दिखाई में रास्ता मांगा है यह अच्छी बात है, लेकिन इस रास्ते को पक्का बनाने का प्रस्ताव तीन महीने पहले ही मैं भेज चुका हूं। वहीं सांसद जी ने इस रास्ते को बनवाने की बात कही है तो हम इस फैसले का स्वागत करते हैं- नरेन्द्र कुमार, ग्राम प्रधान कसीसों

सबसे पहले मैं मीडिया का धन्यवाद करता हूं जिसने पढ़ी लिखी बहू प्रियंका शर्मा की बात को प्रमुखता से प्रकाशित किया। ऐसा मेरे माथ पहली बार हुआ कि जब किसी लड़की ने मुंह दिखाई में समाजहित में कोई कार्य मुझसे मांगा हो। साथ ही बिटिया की मांग को गंभीरता से लिया गया है। रास्ते की नाप करा दी गई है। जल्द रास्ते पर काम शुरू हो जाएगा- सतीश गौतम, सांसद अलीगढ़

ये भी पढ़ें…

AmanChopra: अमन चोपड़ा को गिरफ्तार करने के फिराक में राजस्थान पुलिस, बिना वर्दी फ्लैट के बाहर घूम रही टीम

Punjab and Haryana Court : भाजपा प्रवक्ता तजिंदर बग्गा को हाईकोर्ट से मिली राहत, 5 जुलाई तक गिरफतारी पर रहेगी रोक

https://www.youtube.com/watch?v=ZyRTZ5Ikmco

By Keshav Malan

यह कलम दिल, दिमाग से नहीं सिर्फ भाव से लिखती है, इस 'भाव' का न कोई 'तोल' है न कोई 'मोल'

Leave a Reply

Your email address will not be published.