Boycott Lal Singh Chadda: आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्डा का बजा बैंड...

Boycott Lal Singh Chadda: आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्डा का बजा बैंड, दूसरे दिन भी हुई उम्मीद से कम कमाई

Boycott Lal Singh Chadda

Boycott Lal Singh Chadda: आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा को जंहा भारत में लोगो की नफरत मिल रही है वही दूसरी तरफ पाकिस्तान इस फिल्म पर प्यार लुटाता नज़र आ रहा है। सुत्रो के मुताबिक पाकिस्तान में जल्द ही इस फिल्म को रिलीज़ किया जा सकता है और इतना ही नहीं पाकिस्तान से कई लोगो का रिएक्शन भी सामने आया है।

इस मूवी को लेकर, बता दें कि साल 2019 से पाकिस्तान में कोई भारतीय फिल्म रिलीज नहीं हुई है और अगर ऐसा होता है तो 3 साल बाद पाकिस्तान में फिल्म रिलीज होगी और अब ये मोस्ट अवेटेड मूवी की बजाये मोस्ट कंट्रोवर्सिअल मूवी बन गई है।

Boycott Lal Singh Chadda: भारत के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान ने भी आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा को लेकर ट्वीट किया। इरफान पठान ने लिखा कि लाल सिंह चड्ढा बेहद मजेदार फिल्म है। इसे देखते समय काफी मजा आया। हमेशा की तरह आमिर खान ने पूरी परफेक्शन के साथ अपना काम किया है। पकिस्तान से लगातार हैश टैग वी लव लाल सिंह चड्ढा ट्रेंड कर रहा है, जिसके बाद ट्वीटर पर ट्वीट्स की बढ़ आगे है।

Boycott Lal Singh Chadda: सोशल मीडिया पर बुरी तरह से बायकाट की खबरों के बीच आखिर लाल सिंह चड्ढा 11 अगस्त को रिलीज़ हो गई है, लेकिन रिलीज़ के साथ ही इस फिल्म को सिनेमाघरों में मुँह की खानी पड़ी, परसो रक्षाबंधन की छुट्टी होने के बावजूद बहुत ही कम दर्शक इस मूवी को देखने पहुंचे, इसका अंदाज़ा फिल्म की पहले दिन की कमाई से लगाया जा सकता है। पहले दिन लाल सिंह चड्डा ने महज 10 करोड रू की कमाई की थी जो कि उम्मीदों से काफी कम की थी और दूसरे दिन 35 प्रतिशत  की गिरावट के साथ ही महज करीब 8 करोड की कमाई ही कर पायी है।

Boycott Lal Singh Chadda: फिल्म आलोचक मान कर चल रहे है कि लाल सिंह चड्डा की कमाई में और भी गिरावट दिखेगी। उनका मानना है कि सोशल मीडिया बड़े पैमाने पर एक वर्ग है जो लाल सिंह चड्डा का विरोध कर रहा है और साथ ही उनका मानना है कि लाल सिंह चड्डा को काफी बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।

वैसे सोशल मीडिया पर आमिर के कुछ पुराने बयानों, हिंदुओं के भावनाओं को ठेस पहुँचाने वाले बयान और मूल फिल्म के साथ रीमेक के कंटेंट को लेकर फिल्म का विरोध किया जा रहा है। रिलीज के बाद सोशल प्लेटफॉर्म्स पर लाल सिंह चड्ढा के यूजर रिव्यू भी आने लगे हैं। अब अगर इन रिव्यूज को देखें तो पिछले कई दिनों से आमिर की फिल्म के खिलाफ जारी विरोध में जो आशंकाएं जताई जा रही थीं वह सही साबित होती दिख रही हैं।

इसके अलावा इस फिल्म की एडवांस बुकिंग को लेकर भी की तरह की फेक खबर सामने आ रही है।  केआरके ने ट्वीट करते हुए कहा कि पीवीआर लाल सिंह चड्ढा का पार्टनर है इसलिए मल्टीप्लेक्स चेन की यह ड्यूटी है कि फेक बुकिंग दिखाए ताकि पहले दिन का बिजनस जबरदस्त आ सके।लेकिन ऐसी फेक खबर के बाद फिल्म के व्यापार पर ज्यादा अच्छा असर नहीं पड़ा।

केआरके ने ये भी कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आमिर खान ने अपनी फिल्म लाल सिंह चड्डा को पाकिस्तान में रिलीज करने का फैसला किया है। क्योंकि वह भारतीय जनता से खुश नहीं हैं, जिन्होंने फिल्म को ठुकरा दिया। आमिर भाई बहुत अच्छा फैसला। मैं तो कहता हूं की वहीं रहने चले जाओ, और आगे से फिल्म वही बनाओ।

वहीं विजय पटेल नाम के सोशल मीडिया यूजर ने लाल सिंह चड्ढा की सीटों के बुकिंग पैटर्न पर सवाल उठाया है। उन्होंने लिखा है कि क्या आप पैटर्न देख सकते हैं। यह कार्पोरेट बुकिंग है ताकि फिल्म नकली हाउसफुल दिख सके। उन्होंने स्क्रीनशॉट्स शेयर किए हैं जिनमें हर शो में सेम पैटर्न में सीटों की बुकिंग है।

दरअसल सीटों को फेक फुल दिखाने को अब बॉक्स ऑफिस मार्केटिंग टूल कहा जाता है। इससे लोगों पर साइकोलॉजिकल असर पड़ता है कि ज्यादा लोग यह फिल्म देख रहे हैं। दूसरा ज्यादा बिजनस की मार्केटिंग होती है।

हीरोपंती फिल्म की रिलीज के वक्त भी सोशल मीडिया पर ऐसे ट्वीट्स वायरल हुए थे। हीरोपंती की एडवांस बुकिंग पर एक ट्रेड ऐनालिस्ट के ट्वीट पर यूजर ने वीडियो शेयर करके इसे फेक बताया था।

इसी बीच आमिर खान की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर कई सवाल खड़े कर रही है इस फिल्म को लेकर, जो काफी वायरल भी हो रही है, दरअसल, आमिर अपनी लाल सिंह चड्ढा फिल्म के लिए एक प्रीमियर शो रखा था जिसमे आमिर खान खुद भी मौजूद थे, तब भी थिएटर खली पड़ा था।

फिल्म को फ्री में दिखाए जाने के बाद भी इस तरह से थिएटर का खाली रहना आमिर के लिए एक झटके से कम नहीं था, लाल सिंह चड्ढा फिल्म को करीब 180 करोड की लागत से बनाया गया है अगर ये फिल्म फ्लाॅप हो गयी तो आमिर को एक और बड़ा झटका लग सकता है।

आप खुद ही इस बात से अंदाज़ा लगा सकते है की कई हिट फिल्मे देने वाले बॉलीवुड के सुपर स्टार आमिर खान खुद अपनी फिल्म के प्रीव्यू शो में थिएटर जाते है जहा उनकी मौजूदगी में भी सीट खाली पड़ी दिख रही है।

रिलीज से पहले लोग लाल सिंह चड्ढा की लंबाई पर भी सवाल उठा रहे थे और कुछ प्रतिक्रियाओं में कहा जा रहा कि सिनेमाघर में एक कमजोर कहानी को 2 घंटा 44 मिनट देखना किसी टॉर्चर से काम नहीं है।

फिल्म में कई चीजों को निकाल दिया जाता तो भला इससे कहानी पर क्या फर्क पड़ता बल्कि, फिल्म का टाइम कम होने से दर्शकों को राहत ही मिलती। कुछ दर्शकों ने लिखा- अगर कहानी मनोरंजक होती तो दर्शकों को लंबी चौड़ी फिल्म देखने में असहजता नहीं होती….

इस फिल्म की एडवांस बुकिंग को लेकर भी कई बाते सामने आई थी , फिल्म समीक्षक तरण आदर्श ने अपने ट्वीट में ये तक कहा है कि जो एडवांस बुकिंग का हल्ला काट कर सबकुछ ‘चंगा’ दिखाने की कोशिश हो रही है, वो एडवांस बुकिंग वास्तविकता में उम्मीदों से भी कम हुई है।

इस फिल्म को लेकर करीना कपूर ने भी पिछले दिनों कहा था कि फिल्म अच्छी हो तो सोशल मीडिया में बायकॉट का कोई असर उसके कारोबार पर नहीं पड़ता। अब इस कसौटी पर भी उनकी ताजा फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा फिसड्डी दिख रही है।

इन सबके बीच मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी लाल सिंह चड्ढा से जुड़े विवाद पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है, “आमिर खान सहित कुछ फिल्म कलाकार, निर्माता-निर्देशक धर्म विशेष को सॉफ्ट टारगेट बनाकर ऐसा फिल्मांकन करते ही क्यों हैं कि बाद में उन्हें माफी माँगनी पड़ती है? हमेशा इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि किसी धर्म विशेष के प्रति उपहास की विषयवस्तु उनकी फिल्मों में नहीं आए।”

फिल्‍म की रिलीज के बाद सोशल मीडिया दो हिस्‍सों में बंटता हुआ नजर आया। जबकि पंजाब के जालंधर में सिनेमाघर के बाहर तो फिल्‍म के प्रदर्शन को रोकने की कोश‍िश की गई। इन लोगों ने आरोप लगाया कि ‘लाल सिंह चड्ढा’ से उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

बायकाट के इस हल्ले के बीच अब आमिर खान अपनी फिल्म के रिलीज से पहले उसका प्रमोशन तो कर ही रहे हैं, लेकिन साथ ही वो दर्शकों से विनती भी कर रहे हैं कि उनकी फिल्म जाकर देंखे वरना वह बहुत टूट जाएँगे। मंदिर, गुरुद्वारे जाकर माथ टेककर वो लोगों को बता रहे हैं कि जिन्होंने उनके लिए सोचा है कि वो भारत को पसंद नहीं करते, वो सब लोग गलत हैं।

लेकिन लोग यहाँ ये सवाल कर रहे है की आखिर आमिर खान ने अपनी फिल्मो में हिन्दू देवी देवताओ का अपमान क्यों किया ? क्यों हिंदू धर्म और पूजा-पाठ के तरीकों पर सवाल उठाया? क्यों अपनी फिल्मों में देवी-देवताओं को मजाक का पात्र बनाया? और शिवलिंग पर दूध क्यों चढ़ाना गलत है? अब दखना ये है की इस वीकेंड आमिर की फिल्म का क्या हाल होता है ? पहले दिन और दूसरे दिन की कमाई के बाद अगर आमिर की लाल सिंह चड्ढा की फिल्म की यही हालत रही है तो इसे फ्लॉप होने से कोई नहीं रोक सकता ….

ये भी पढ़े…

Boycott Lal Singh Chadda: लाल सिंह चड्डा का बजा बैंड, वहीं रक्षा बंधन की हो गई बल्ले-बल्ले
Boycott lal Singh Chadda: दर्शकों के लिए तरस रही है लाल सिंह चड्डा, राष्ट्रवादियों ने निकाली दी हवा, खून के आंसू रोने के लिए मजबूर हुए आमिर खान

By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.