छत्तीसगढ़: व्हाट्सएप लोकेशन पर चलता रहा प्रेमी, टॉयलेट के बहाने कार से उतरी दुल्हन को..

छत्तीसगढ़: व्हाट्सएप लोकेशन पर चलता रहा प्रेमी, टॉयलेट के बहाने कार से उतरी दुल्हन को लेकर फरार

साभार आजतक

छत्तीसगढ़: एक ऐसी घटना जिसे पढ़ आप भी दंग रह जायेंगे, प्यार में अंधे लोग किस हद तक जा सकते हैं, ये आप इस खबर को पढ़ कर अंदाजा लगा सकते हैं। जब घर वालों के लगातार मना करने और अपनी पसंद की शादी के लिए मना कतने पर युवती ने ऐसा कदम उठाया कि परिजनों को शर्मसार कर दिया।

घटना छत्तीसगढ़ के कांकेर की है, जहाँ एक शादी के बाद जो हुआ वो अब तक आपने फिल्मों में ही देखा होगा, लेकिन शादी के मंडप से दूल्हा संग विदा हुई दुल्हन फिल्मी स्टाइल में रास्ते से प्रेमी के साथ फरार हो गई। आपको बता दें कि दुल्हन पहली बार अपने प्रेमी से दंतेवाड़ा मंदिर में साल 2017 में मिली थी, पिछले पांच साल से उससे प्यार करती थी, और वह अपने प्रेमी को चाहकर भी छोड़ नहीं सकती थी।

दुल्हन आरती सहारे ने पुलिस के सामने बताया कि जब वह शादी के बाद सुबह विदा होकर घर से जा रही थी, तो वह अपने प्रेमी विकास को व्हाट्सएप पर लोकेशन  भेजती है जिसके सहारे प्रेमी साथसाथ चलता रहता है और रास्ते में दुल्हन कार को बाथरुम जाने के बहाने रुकवाती है और चुपके से पीछे चल रही प्रेमी की कार में बैठकर फरार हो गई।

छत्तीसगढ़: जब इस घटना की जानकारी दुल्हन के परिजनों तक पहुंची तो अफरातफरी मच गई, दूल्हा संग परिजन थाने पहुंच गये। परिजनों की सूचना पर पुलिस सतर्क हो गई और नाकेबंदी के बाद थाना कांकेर की पुलिस ने फरार दुल्हन और उसके प्रेमी को पकड़ लिया। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन युवती का परिवार शादी के लिए तैयार नहीं था, लड़की के बालिग होते ही पिता ने लड़का ढ़ूंढ कर महाराष्ट्र के सांवरगांव में उसकी शादी तय कर दी।

युवती ने बताया कि उसने पिता से काफी मिन्नतें की, लेकिन पिता नहीं माने जिसके बाद युवती ने पहले भी प्रेमी संग भागने कोशिश की थी लेकिन पहरेदारी के चलते नाकाम रही। आगे बताया कि वह शादी के दौरान भाग न जाए इसलिए उसकी बुआ पूरे समय उसे पकड़ कर रखती थी। युवती ने ये भी बताया कि प्रेमी ने उसे नहीं बल्कि प्रेमी को उसने अपने साथ भगाया।

ये भी पढ़ें..

Gyanvapi Live: तंजीम उलमा इस्लाम के महासचिव रजवी की धमकी – ‘अब किसी मस्जिद पर हमला हुआ तो खामोश नहीं बैठेंगे मुसलमान’, वहीं ओवैसा ने ज्ञानवापी के सर्वे को बताया असंवैधानिक

गोरखपुर: 82 मासूमों के लापता होने का पुलिस सुराग लगाने में नाकाम, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.