Hanuman Chalisa on loudspeaker : कर्नाटक गृहमंत्री की चेतावनी के बाद भी नहीं...

Hanuman Chalisa on loudspeaker : कर्नाटक गृहमंत्री की चेतावनी के बाद भी नहीं मानी श्री राम सेना, लाउडस्पीकर पर बजाई हनुमान चालीसा

Hanuman Chalisa on loudspeaker

Hanuman Chalisa on loudspeaker : महाराष्ट्र और यूपी में लाउडस्पीकर का विरोध प्रदर्शन इतना तीव्र है कि उसकी आग अब कर्नाटक तक भी पहुंच गयी है। कुछ दिनों से महराष्ट्र में मस्जिदों के उपर लगे लाउडस्पीकर से अजान को लेकर, मनसे और भाजपा की तरफ से चल चल रहे विरोध प्रदर्शन की आग अब कर्नाटक में भी दिखाई देने लगी है। कर्नाटक के गृहमंत्री अरगा ज्ञानेंद्र की चेतावनी के बावजूद हिंदूवादी संगठन श्रीराम सेना के कार्यकर्ताओं ने सोमवार सुबह 5 बजे से हनुमान चालीसा का पाठ किया।

बता दें कि हुबली व मैसूर के हनुमान मंदिर में श्री राम सेना के कार्यकर्ताओं ने भजन भी गाए। इस दौरान लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का पाठ भी किया गया।

गौरतलब है कि इससे पहले गत रविवार श्री राम सेना के प्रमुख प्रमोद मुथालिक ने एलान किया था कि नौ मई से राज्य के 1000 से अधिक मंदिरों में सुबह पांच बजे से हनुमान चालीसा का बजाई जाएगी। यह एलान मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के खिलाफ किया गया था।

Hanuman Chalisa on loudspeaker : कर्नाटक में हाई अलर्ट 

कर्नाटक सरकार ने श्री राम सेना के सोमवार से लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा के पाठ करने के ऐलान के बाद से ही पूरे राज्य में  हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। स्थानीय प्रशासन ने मंदिरों के आसपास भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है। कानून व्यवस्था न बिगड़े इसके लिए पुलिस ने कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी लिया है।

 गृह राज्यमंत्री की चेतावनी को भी किया नजरांदाज

श्री राम सेना की घोषणा के बाद राज्य के गृह मंत्री अरगा ज्ञानेंद्र ने कहा था  कि ध्वनि प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार सख्त कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा, सभी को कोर्ट के आदेश का सख्ती से पालन करना चाहिए और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।
प्रमोद मुथालिक : नाकाम रही है राज्य सरकार 
रविवार को श्री राम सेना प्रमुख प्रमोद मुथालिक ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार यहां मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकाम रही है।

                                                                                                                                                                                              उन्होंने कहा कि सीएम बसवराज बोम्मई और राज्य के गृह मंत्री अरगा ज्ञानेंद्र को वैसी ही हिम्मत दिखानी चाहिए, जैसी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वहां दिखाई है। योगी आदित्यनाथ ने वहां धार्मिक स्थलों से अनधिकृत लाउडस्पीकरों के खिलाफ कार्रवाई की है और अन्य को अनुमति योग्य सीमा तक आवाज सीमित रखने का निर्देश दिया है।

Khargone Violence Update : खरगोन पहुंचे कांग्रेसी नेताओं को लोगों ने दौड़ाया, लगे ‘दिग्विजय सिंह मुर्दाबाद के नारे’
Indian Army : आर्मी को मिली आकाश प्राइम मिसाइल एयर डिफेंस सिस्टम की दो रेजिमेंट, दुश्मनों के करेगी दांत खट्टे
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.