हिमाचल प्रदेश विधानसभा: कांग्रेस के 6 बागी विधायक नपे, स्पीकर ने किया बर्खास्त

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में राज्यसभा चुनाव में मतदान करने वाले 6 बागी कांग्रेसी विधायकों का काफिला जैसे ही विधानसभा गेट के पास पहुंचा तो कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। दूसरी तरफ भाजपा और युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने भी नारेबाजी शुरू कर दी, इस दौरान माहौल काफी गर्मा गया। क्रास वोटिंग करने के बाद ही तय हो गया था कि उनके ऊपर दल-बदल कानून के अंतर्गत कार्यवाही हो सकती है और हुआ भी ये ही आज विधानसभा स्पीकर कुलदीप सिंह ने इन 6 कांग्रेस के बागी विधायकों की सदस्यता को निरस्त कर दिया।

विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह: उन 6 विधायकों को कर दिया अयोग्य घोषित, अब वे…

हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने बताया, “दलबदल विरोधी कानून के तहत 6 विधायकों के खिलाफ मुझे याचिका मिली थी…6 विधायक जिन्होंने चुनाव कांग्रेस से लड़ा और दलबदल विरोधी कानून के तहत उनके खिलाफ याचिका मिली…मैंने अपने 30 पेज के आदेश में काफी विस्तार से इसकी जानकारी दी है…मैंने उन 6 विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया है, अब वे हिमाचल प्रदेश विधानसभा के सदस्य नहीं है।”

 

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रमुख प्रतिभा सिंह: उनकी बात नहीं सुन रहे तो उनका नाराज होना जायज…

6 कांग्रेस विधायकों की सदस्यता रद्द किए जाने पर हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रमुख और सांसद प्रतिभा सिंह ने कहा, “जब आपको (सुखविंदर सिंह सुक्खू) एक साल से ज्यादा समय हो गया है, फिर भी आप उनके मसलों का संज्ञान नहीं ले रहे, उनकी बात नहीं सुन रहे तो उनका नाराज होना जायज है। अगर वे उन्हें बैठाकर बात करते तो आज यह स्थिति नहीं होती…”

क्या है मामला?

आपको बता दे कि इन 6 कांग्रेस के बागी विधायकों पर राज्यसभा चुनाव में क्रास वोटिंग का आरोप है इन्होंने कांग्रेस के राज्यसभा उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी को हराने में अहम भूमिका निभाई थी। परिणाम ये हुआ कि भाजपा के राज्यसभा उम्मीदवार हर्ष महाजन को जीत मिल गई जो कि पहले दूर की कौड़ी लग रही था। जीतने के लिए 35 वोट चाहिए थे और कांग्रेस के राज्यसभा उम्मीदवार सिंघवी की जीत सुनश्चित लग रही थी। कांग्रेस के पास 40 वोट थे लेकिन, इन 6 विधायकों ने पार्टी लाईन के ऊपर उठकर भाजपा उम्मीदवार को वोट कर दिया था।

ये भी पढ़ें…

संदेशखाली हिंसा: बशीरहाट कोर्ट ने आरोपी शाहजहां शेख को भेजा 10 दिन की रिमांड पर, नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने बताया छोटा दाऊद…
बीसीसीआई ने जारी की सालाना कॅान्ट्रैक्ट लिस्ट, ईशान और श्रेयस को नहीं मिली जगह
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।