HIV Positive: लॉकडाउन में कोरोना से बचे तो HIV ने घेरा, असुरक्षित सेक्स से भारत में 85000 संक्रमित, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस

HIV Positive

HIV Positive: देश में 2020-21 यानि एक वर्ष में कोरोना से बचाव के लिए भारत सरकार द्वारा लगाये गये लॉकडाउन पूरा देश घरों में बंद था। लेकिन उसी दौरान की एक सनसनीखेज खबर सामने आयी है, जिसने सभी को चौंका दिया है।

RTI ने अपने एक खुलासा में बताया है, कि लॉकडाउन के दौरान लोग कोरोना से बचने के लिए घरों में कैद थे, उस समय हो रहे असुरक्षित यौन संबंध से लोग HIV  के शिकार हो रहे थे। जिसकी जाँच बाद में की गई तो पता लगा कि परिणाम बेहद चौंकाने वाले थे।

जब लगातार जाँच हुई तो पता लगा कि सबसे ज्यादा HIV संक्रमित महाराष्ट्र में निकले हैं, वहाँ कुल 10,498 लोग संक्रमित हुए हैं। इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 9521 और कर्नाटक में 8947 संक्रमित पाए गए। बड़ी जनसंख्या वाले राज्यों में से पश्चिम बंगाल में सबसे कम 2,757 और मध्य प्रदेश में 3037 लोग  HIV POSITIVE पाए गए हैं।

HIV Positive: मध्य प्रदेश के नीमच के रहने वाले RTI कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ की याचिका पर जवाब देते हुए राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (NACO)  ने बताया कि 2020-21 के दौरान असुरक्षित सेक्स की वजह से कुल 85,268 लोग HIV से संक्रमित हुए। NACO ने अपने जवाब में बताया कि संगठन ने यह जानकारी खुद एचआईवी पॉजिटिव लोगों की ओर से दिए गए जवाबों के आधार पर जुटाई है।

NACO के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यह संख्या बढ़ भी सकती है, यदि लॉकडाउन के दौरान संक्रमित हुए लोग खुद टेस्टिंग सेंटर पर जाकर इसकी रिपोर्टिंग करें। RTI आगे बताया कि 300 मामलों में महाराष्ट्र और कर्नाटक फिर से टॉप पर हैं। इसके बाद ओडिशा में 24 मामले, राजस्थान में 22 मामले, उत्तर प्रदेश में 21 मामले, मध्य प्रदेश में 20 मामले, गुजरात और तेलंगाना में 18-18 मामले, पश्चिम बंगाल में 13, बिहार में 10 और आंध्र प्रदेश में 15 मामले सामने आए हैं।

ये भी पढ़ें..

HIV: पॉजिटिव लोगों के लिए आशा की नई किरण, ‘छूने से एड्स नहीं प्यार फैलता है’

PM Modi in Berlin : तीन दिन के विदेशी दौरे पर पीएम मोदी, जर्मनी चासंलर से यूक्रेन-रूस मुद्दे पर भी होगी बात

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️