Kanpur violence: जुमे की नमाज के बाद दो समुदायों में भीषण पत्थरबाजी, योगी का सख्त आदेश उपद्रवियों पर चलेगा बुल्डोजर

साभार-अमर उजाला

Kanpur violence: दिल्ली, राजस्थान, महाराष्ट्र के बाद अब उत्तर प्रदेश के कानपुर में जुमे की नमाज के बाद दो समुदायों में पत्थरबाजी व बमबाजी शुरू हो गई, जिसमें तमाम लोग घायल हो गये। मामले को शांत करने के लिए मौके पर पहुंचे पुलिस बल के ऊपर भी पत्थरबाजी करने की जानकारी भी सामने आयी है।इस मामले की शुरुआत मुस्लिम नेता हयात जफर हाश्मी के बाजार बंद करने के आह्वान से हुआ था।

आपको बता दें कि घटना कानपुर के बेकनगंज इलाके की है, जहाँ जुमे की नमाज के दौरान दो समुदाय आमनेसामने आ गये। दरअसल! बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा के टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मुहम्मद साहब पर टिप्पणी किए जाने से मुस्लिम समाज नाराज था। शुक्रवार को बाजार बंद भी कराए गए। परेड चौराहा पर सैकड़ों लोग इकट्‌ठा हुए थे। दोपहर करीब 3 बजे दो पक्ष के लोग आमनेसामने आ गए। जिसके बाद पथराव शुरू हुआ। इसमें कई लोग घायल हो गए हैं, उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का आदेश

डीजीपी से योगी ने कहा कि बवालियों की पहचान होने के बाद उनके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई तो करें ही, साथ ही जितनी सख्त धाराएं लग सकती हैं वो भी लगाई जाएं। योगी ने कहा कि बवालियों की संपत्ति जब्त कर रासुका के तहत भी कार्रवाई करें ताकि भविष्य में कोई बवाल करने के बारे में सपने में भी न सोच पाए।

संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार का बयान में कहा है कि उपद्रव में शामिल अब तक 18 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है, इन आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई होगी। आगे बताया कि हमें पर्याप्त मात्रा में वीडियो फुटेज मिल चुके हैं, जिसके आधार पर हम आगे की कार्रवाई करेंगे। उपद्रवियों के साथसाथ जो षड्यंत्रकारी हैं, उनको भी नहीं बख्शा जायेगा।उनकी संपत्ति को भी जब्त किया जाएगा, इसके अतिरिक्त वहां के लोगों से अपील है कि शांति व्यवस्था बनाए रखें। प्रशासन का सहयोग करें, उपद्रवियों पहचानने में हमारी मदद करें।

18 आरोपियों को किया गया गिरफ्तार, जाँच जारी

कानपुर के पुलिस कमिश्नर के मुताबिक बवाल में दो लोग जख्मी हुए हैं। 18 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है। सभी की गिरफ्तारी दिखा दी गई है, पुलिस ने आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए तंग गलियों में पूरी तैयारी के साथ घुसे हैं। वीडियो फुटेज के आधार पर धरपकड़ का अभियान छेड़ा गया है। फिलहाल यतीमखाना चौराहे पर सन्नाटा पसरा है और गलियों में भारी पुलिस बल मौजूद है।

अखिलेश यादव ने नुपुर शर्मा को गिरफ्तार करने की माँग की

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की माँग करते हुए ट्वीट कर लिखा है, कि महामहिम राष्ट्रपति जी, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नगर में रहते हुए भी पुलिस और ख़ुफ़िया-तंत्र की विफलता से भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा दिए गए भड़काऊ बयान से, कानपुर में जो अशांति हुई है, उसके लिए भाजपा नेता को गिरफ़्तार किया जाए। हमारी सभी से शांति बनाए रखने की अपील है।

बृजेश पाठक ने अखिलेश यादव के ट्वीट पर किया पलटवार

यूपी के उप- मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने अखिलेश के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि श्री अखिलेश जी कार्यवाही भी होगी, बुलडोजर भी चलेगा, कानपुर के पत्थरबाजों व घटना को सुनियोजित करने वालों पर, आप भूल गये शायद यह योगी जी की सरकार है, यहाँ अपराधियों को पाला नहीं पलायन करवाया जाता है।

ये भी पढ़ें..

Sidhu moose wala Murder: गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने जेल में बैठकर ऐसे रची मौत की साजिश, पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आई सामने

Hijab: चेतावनी के बाद भी हिजाब पहनकर कॉलेज पहुँचीं कर्नाटक में 6 छात्राओं को प्रिंसिपल ने किया बर्खास्त

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️