Kanpur violence: विवादित मस्जिद को हमेशा के लिए बंद कर दो, इससे अल्लाह भी..

Kanpur violence: विवादित मस्जिद को हमेशा के लिए बंद कर दो, इससे अल्लाह भी खुश और मोहल्ला भी खुश- साध्वी प्राची

sadhvi prachi

Kanpur violence: अपने विवादित बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाली विश्व हिंदू परिषद की फ़ायर ब्रांड नेता साध्वी प्राची नेता ने हाल ही कानपुर में दो समुदायों में जुलूस के दौरान हुए उपद्रव को लेकर बयान देते हुए कहा है, कि जुमे को जिस मस्जिद में नमाज के बाद उपद्रव होता है उस मस्जिद को हमेशा के लिए बंद कर देना चाहिए। कमेटी वालों को गिरफ्तार कर उन पर कड़ी धाराओं में मुकदमा चलाया जाना चाहिए। इससे अल्लाह भी खुश होगा और मोहल्ला भी खुश होगा।

क्या था कानपुर हिंसा का मामला?

Kanpur violence: आपको बता दें कि बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज ख़त्म होने के बाद कानपुर इलाक़े के बेकनगंज में हज़ारों की संख्या में एकत्रित होकर मुस्लिम समुदाय के जुलूस निकालते हैं और एख मुस्लिम आबादी के बीचचंद्रेश्वर हातारहने का स्थान गुजर बसर कर रहे 100-150 हिंदू परिवारों पर ईंटपत्थरों पेट्रोल बम व काट की बोतलों से हमला कर देते हैं। जिस हमले में कई हिंदू समुदाय के लोग घायल हो जाते हैं। सूचना पर पहुँचे प्रशासन उपद्रवियों पर लाठी भांजकर क़ाबू पाता है।

साध्वी प्राची ने सीएम योगी को जन्मदिवस की दी बधाई

दरअसल! साध्वी प्राची रविवार को यूपी की विधानलभा लोनी से  भाजपा विधायक नंद किशोर गुर्जर के बुलावे पर  एक प्रवचन में शामिल होने गई थीं। इसी दौरान उन्होंने कानपुर हिंसा को लेकर ये तमाम बातें कहीं, साथ ही साध्वी प्राची ने सीएम योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई दी और  कहा कि योगी जी मेरे बड़े भाई समान हैं। ईश्वर से यही कामना है कि वह यूपी ही नहीं देश की राजनीति में आगे बढ़े। मोदी जी के बाद  योगी जी जैसे नेताओं की देश को जरूरत है। साथ में ये भी कहा कि मोदी जी के बाद देश की कमान योगी जी के हाथ में हो ऐसी ईश्वर से कामना।

ये भी पढ़ें..

Kanpur Hinsa: दंगे का मास्टर माइंड हयात जफर गिरफ्तार, IPS अजय पाल शर्मा के पास होगी अब जांच की कमान

Kanpur violence: जुमे की नमाज के बाद दो समुदायों में भीषण पत्थरबाजी, योगी का सख्त आदेश उपद्रवियों पर चलेगा बुल्डोजर

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.