PFI Sammelan Banned: दिल्ली में PFI सम्मेलन की पुलिस ने नहीं दी इजाजत, VHP ने की थी शिकायत

PFI Sammelan Banned

PFI Sammelan Banned: दिल्ली में PFI के सम्मलन करने को लेकर विवाद हो गया है। विश्व हिंदू परिषद ने विवादित संस्था PFI के सम्मेलन को लेकर दिल्ली पुलिस से शिकायत की थी। जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने शिकायत पर कार्यवाही करते हुए PFI को दिल्ली में सम्मेलन करने पर रोक लगा दी है और साथ ही PFI को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर उसने रोक के बावजूद दिल्ली में सम्मेलन किया तो कानून संगत कार्यवाही की जाएगी।

PFI Sammelan Banned: बता दें कि 30 जुलाई  शनिवार को PFI दिल्ली में सम्मेलन करना चाहते थे वहीं VHP ने इस सम्मेलन को लेकर विरोध जताया था। विश्व हिंदू परिषद के प्रांतीय मंत्री सुरेंद्र कुमार गुप्ता ने दावा किया कि पीएफआई देशभर में संदिग्ध गतिविधियों में शामिल रहा है और उन्हें दिल्ली में कोई रैली करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

PFI Sammelan Banned: वहीं एक अन्य विहिप नेता विनोद बंसल ने अपने ट्विटर हैंडल पर पत्र को रीट्वीट करते हुए लिखा, “विहिप कभी भी PFI की राष्ट्र विरोधी गतिविधियों को अनुमति नहीं देगा। हमने इसे तुरंत रोकने के लिए दिल्ली पुलिस को पत्र भेजा है।

गौरतलब है कि पीएफआई का यह सम्मेलन दिल्ली के झंडेवालान की रानी झांसी रोड स्थित अंबेडकर भवन में होने वाला था। पीएफआई ने इस कार्यक्रम का नाम ‘सेव द रिपब्लिक’ दिया था।

पीएफआई की देश विरोधी साजिश का हुआ खुलासा 

बिहार पुलिस ने PFI के तीनों आतंकियों से राष्ट्रविरोधी दस्तावेज बरामद किए थेजिसमें PFI की देश विरोधी साजिश का खुलासा हुआ है। उसमे लिखा है ईंशाल्लाह साल 2047 तक भारत में इस्लामिक होगा। बरामद दस्तावेज सात पेजों का हैं उसमें शीर्षक है…India 2047, Towards Rule of Islam in India…

दस्तावेज मिलने से भारत की खुफिया ऐजेसिंया के कान खड़े हो गए हैं। वो इन दस्तावोजों को खंगालने में लगी हुई है। PFI के दस्तावेजों से ये पता चलता है कि PFI भारत में 1947 के बंटवारे के भयानक मंजर को फिर से जीना चाहता है।जब इस्लामिक कट्टरपंथ सोच रखने वालों ने भारत को दो भागों में बांट दिया था। भारत को तोड़कर पाकिस्तान बनाने में मोहम्मद अली जिन्ना का अहम रोल रहा था।

PFI : इस्लामिक संगठन पीएमआई का गठन साल 2006 में हुआ

इस्लामिक संगठन का गठन वर्ष 2006 में केरल में हुआ था।इसका मुख्यालय दिल्ली के शाहीन बाग में है।एजेंसी ने पीएफआई और उसके पदाधिकारियों के खिलाफ लखनऊ में एक विशेष पीएमएलए अदालत के समक्ष दो आरोप पत्र दायर किये हैं।

PFI हमेशा से कहता आया कि वो किसी भी देश विरोधी कार्य में शामिल नहीं रहा है। लेकिन, ED और CBI के आलावा भी कई केंद्रीय एजेंसिया उनको परेशान करती रही है। जब चाहे ED और कई खुफिया एजेंसी उनके ऑफिस पर आ धमकते है। और कई ऊलजलूल आरोप लगाती रहती है। हम इन सब आरोंपो का लोकतांत्रिक तरीके से जवाब देंगे।

 

ये भी पढ़े..

Vishakapattnam: शादी की सालगिरह मनाने गया कप्पल, पत्नी हुई प्रेमी के साथ रफूचक्कर
UP News: कल्लो ने बचाई अपने मालिक की जान, पूरे गाँव में हो रही है कल्लो की तारीफ
PFI Ban: बिहार ATS का खुलासा, PFI रच रही थी दंगा भड़काने की साजिश…

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️