Presidential Candidate: प्रधानमंत्री ने क्या बोला? जिसे सुन आँखों में आंसू लिए चुप..

Presidential Candidate: प्रधानमंत्री ने क्या बोला, जिसे सुन आँखों में आंसू लिए चुप हुई द्रौपती

dropati murmu

Presidential Candidate: भाजपा और उनके साथ के दलों ने अपनी राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपती मुर्मू को चुना है। जो कि ओडिशा की रहने वाली एक आदिवासी महिला हैं। द्रौपदी ओडिशा के मयूरभंज के अपने गांव माहूलडिहा में अपने घर पर थीं। तभी प्रधानमंत्री मोदी की कॉल पहुंच जाती है। प्रधानमंत्री की बात सुन मुर्मू भावुक हो गईं और कुछ बोल भी न पाईं।

आदिवासी महिला को पहले गर्वनर बनाया, फिर राष्ट्रपति प्रत्याशी चुना

एक इंटरव्यू में द्रौपदी मुर्मू ने बताया था कि वे आदिवासी संथाल समाज से आती हैं। उनका परिवार बहुत गरीब था, लिहाजा उनका शुरुआती मकसद सिर्फ छोटी-सी नौकरी करके परिवार पालना था। उनकी नौकरी लग भी गई, लेकिन ससुराल वालों के कहने पर छोड़नी पड़ी। जब उनका मन नहीं लगा तो बच्चों को मुफ्त में पढ़ाना शुरू किया। यहीं से उनकी समाजसेवा की शुरुआत हुई।

Presidential Candidate: 1997 में उन्होंने पहली बार रायरंगपुर नगर पंचायत के निगम पार्षद का चुनाव लड़ा और जीत गईं। 2000 में उन्हें विधायक का टिकट मिला और वे यह चुनाव भी जीत गई। इसके बाद वे मंत्री बनीं। 2009 में चुनाव हारने के बाद वे गांव आ गईं। 18 मई 2015 से 18 मई 2020 तक झारखंड की राज्यपाल रहीं और अब उनको भाजपा ने राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। तकरीबन ये तय सा भी हो गया है, कि 29 दिनों बाद यानी 21 जुलाई को द्रौपदी मुर्मू ही देश की अगली राष्ट्रपति होंगी।

पूरा परिवार उजड़ गया, फिर भी नहीं हारी हिम्मत

द्रौपती के बेटे की दुर्घटना में मौत हो गई, जिसके बाद वे डिप्रेशन में चली गईं। जैसे-तैसे वे एक बेटे की मौत के सदमे से बाहर आई थीं, कि 2013 में दूसरे बेटे की भी हादसे में मौत हो गई। फिर 2014 में उन्होंने पति को भी खो दिया। इसके बाद वे पूरी तरह टूट गई थीं, पर हिम्मत जुटाकर उन्होंने खुद को समाजसेवा में झोंक दिया।

द्रौपती की बेटी ने बताई कहानी

द्रौपती मुर्मू की बेटी इतिश्री ने बताया कि एक शाम माँ के पास कॉल आया, शायद प्रधानमंत्री मोदी का था। उन्होंने जो भी कहा हो, लेकिन माँ उसके बाद चुप हो गईं। आंखों में आंसू थे, कुछ भी बोल न सकीं। थोड़ी देर बाद बस धन्यवाद कह पाईं और वो भी बहुत मुश्किल से।

Z+ सिक्योरिटी के घेरे में द्रौपती

राष्ट्रपति उम्मीदवार चुने जाने के बाद द्रौपदी मुर्मू को केंद्र की तरफ से Z+ सिक्योरिटी सुरक्षा दी गई है। वे आज से ही हर समय केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के सुरक्षा घेरे में रहेंगी। सुबह से ही सशस्त्र सैनिकों के एक दल ने उनकी पहरेदारी शुरू कर दी है। सिक्योरिटी कवर मिलने के बाद मुर्मू अपनी विधानसभा रायरंगपुर में जग्गनाथ मंदिर और शिव मंदिर में दर्शन के लिए गईं। उन्होंने शिव मंदिर में झाड़ू लगाई और पूजा-अर्चना की।

ये भी पढ़ें..

Aligarh: अग्निपथ के विरोध की आढ़ में आगजनी करने वालों को होगी 10 साल की सजा!

Maharashtra Political Crisis Live: महाराष्ट्र विधानसभा हो सकती है भंग,भाजपा पर लागाया अपने विधायकों के अपरहण का आरोप

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.