Ramdas Athawale On ED: "ED एक स्वतंत्र संस्था, भाजपा नहीं करती किसी को"...

Ramdas Athawale On ED: “ED एक स्वतंत्र संस्था, भाजपा नहीं करती किसी को परेशान” वहीं गहलोत का पलटवार “छापेमारी केन्द्र सरकार की बौखलाहट”

Ram Athawale On ED

Ramdas Athawale On ED: मंगलवार 2 अगस्त को  नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली में 12 जगहों पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) छापेमारी कर रही है।दिल्ली में नेशनल हेराल्ड दफ्तर पर भी ED छापेमारी हो रही है। वहीं रामदास अठावले ने कहा “ED एक स्वतंत्र संस्था, भाजपा नहीं करती किसी को परेशान” वहीं गहलोत का पलटवार “छापेमारी केन्द्र सरकार की बौखलाहट का नतीजा”… ED ने इससे पहले काँग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी और कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गाँधी से कई राउंड की पूछताछ की थी।

Ramdas Athawale On ED: अब सरकार की तरफ से ED की छापेमारी पर प्रतिक्रिया आयी है। केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि “ED एक स्वतंत्र विभाग है। अगर कहीं भ्रष्टाचार, अनियमितताएं अवैध तरह से पैसे जमा करने की कोशिश होती है तो ऐसे वक्त में ED द्वारा जांच होती है। इसके पीछे भाजपा का कोई संबंध नहीं है और न ही भाजपा किसी को तकलीफ देने का काम करती है।”

वहीं राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने दिल्ली में Ed की 12 जगहों पर हो रही छापेमारी को लेकर कहा कि “ED द्वारा हेराल्ड हाउस पर छापेमारी केन्द्र सरकार की बौखलाहट का प्रतीक है। श्रीमती सोनिया गांधी एवं श्री राहुल गांधी को पूछताछ के नाम पर प्रताड़ित करने के बाद ED अब फेस सेविंग के लिए इस तरह की कार्रवाई कर रही है।”

उन्होंने आगे कहा कि “इस पूरे मामले में कोई मनी ट्रांजेक्शन ही नहीं हुआ तो मनी लॉन्ड्रिंग कैसे हो सकती है। ED ने जुलाई, 2015 में इस केस को बन्द कर दिया था परन्तु केन्द्र सरकार ने उस समय के जांच अधिकारी का तबादला कर नए अधिकारियों पर दबाव डाला और बदले की भावना से कार्रवाई शुरू की।” 

गहलोत ने ये भी कहा कि ED के माध्यम से केन्द्र सरकार चाहे कांग्रेस को बदनाम करने का कितना भी प्रयास कर ले, अंत में जीत सच्चाई की ही होगी। आप को बता दे कि ED आज मुंबई, दिल्ली और कोलकता में छापेमारी कर रही है। ये अलग बात है कि ED तीनों जगह पर तीन अलग अलग केसों में छापेमारी कर रही हैं। 

मुबई में पात्रा चॉल घोटाला मामले में सिवसेना प्रवक्ता संजय राउत के ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं। वहीं कोलकता में शिक्षक भर्ती मामले में पार्थ चटर्जी के ठिकानों पर छापेमारी चल रही है।
गौरतलब है कि ED ने संजय राउत को गिरफ्तार करने से पहले 18 घंटे तक जमीन घाटाले को लेकर लंबी पूछताछ की उसके बाद ED के अधिकारियों ने राउत को मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में गिरफ्तार करने का फैसला किया। गिरफ्तारी के दौरान संजय राउत के घर से ईडी को 11.5 लाख रुपए मिले थे।

 

बता दें कि यंग इंडिया और एसोसिएटेड जर्नल दोनों के 99 प्रतिशत शेयर काँग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी के पास हैं। दोनों कंपनियों पर सोनिया और राहुल गाँधी का अधिकार हैं। इसलिए जितनी आय दोनों कंपनियों की संपत्ति सो हो रही आय को सोनिया और राहुल की ही आय मानी जा रही है। ऐसा इसलिए माना जा रहा है क्योंकि सबसे ज्यादा शेयर इनके पास ही हैं। 

ये भी पढे़…
National Herald Case Live Update: दिल्ली में हेराल्ड हाउस पर ED की छापेमारी, राहुल और सोंनिया गाँधी से हुई थी पूछताछ
Farmina Naaz: ‘हर-हर शंभू’ गाने वाली गायिका को देववंद के उलेमा ने दी धमकी, भजन गाकर कर रहीं है इस्लाम के खिलाफ काम

By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.