Sanjay Raut: शिवसेना प्रवक्ता को 22 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजा, पात्रा चॉल...

Sanjay Raut: शिवसेना प्रवक्ता को 22 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजा, पात्रा चॉल जमीन मामले में है आरोपी

Sanjay Raut

Sanjay Raut: शिवसेना सांसद संजय राउत को कोर्ट के सामने पेश किया गया था। पीएमएलए कोर्ट ने उन्हें 22 अगस्त तक पात्रा चॉल जमीन मामले में ED की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अदालत ने आज फिर उनसे पूछा कि आपको किसी प्रकार की दिक्कत या तकलीफ तो नहीं है। जिस पर उन्होंने न में जवाब दिया।

Sanjay Raut: राउत की सेहत को ध्यान में रखते हुए न्यायिक हिरासत में भेजने के साथसाथ अदालत ने उन्हें दवाई और घर का खाना देने की भी इजाजत दी है। आप को बता दें कि अदालत में उनके वकील ने उनके स्वास्थ्य संबंधी दस्तावेजों दस्तावेज सौंपे थे। जिसमें यह बताया गया था कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है। इसी के मद्देनजर अदालत ने उन्हें यह सहूलियत दी है।

गौरतलब है कि ED ने संजय राउत को गिरफ्तार करने से पहले 18 घंटे तक जमीन घाटाले को लेकर लंबी पूछताछ की उसके बाद ED के अधिकारियों ने राउत को मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में गिरफ्तार करने का फैसला किया था। गिरफ्तारी के दौरान संजय राउत के घर से ईडी को 11.5 लाख रुपए मिले हैं।

Sanjay Raut: क्या है पात्रा चॉल घोटाला?

साल 2007 में गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन कंपनी को जो कि HDIL की सिस्टर कंपनी है पात्रा चाल का विकास करने का काम महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवेलपमेंट अथॉरिटी की तरफ से दिया गया था।

गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन को वहां रहने वाले 672 फ्लैट बनाकर देने थे और करीब 3000 फ्लैट म्हाड़ा को देना था। यह लैंड 47 एकड़ का था, जहां पर वहां रहने वाले और म्हाड़ा को घर बनाकर देने के बाद बाकी बची जमीन पर वो घर बनाकर खुद बेच सकते हैं।

लेकिन आरोप है कि गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन ने वहां किसी भी तरह का विकास नहीं किया और न ही म्हाड़ा को फ्लैट दिए बल्कि उसने पूरी जमीन और FSI 8 बिल्डर को 1034 करोड़ रुपये में बेच दी थी।
ये भी पढ़े…

 

By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.