Shoiab AKhtar: शोएब अख्तर ने दी कोहली को धाकड़ सलाह, 'खूब खेलों खेल, तोड़ों दो ...'

Shoiab AKhtar: शोएब अख्तर ने दी कोहली को धाकड़ सलाह, ‘खूब खेलों खेल, तोड़ों दो सचिन के शतकों के शतक का रिकार्ड’

shoaib akhtar

Shoiab AKhtar: हर खिलाड़ी कभी न कभी बुरे दौर से गुजरता ही रहा है। गावस्कर से लेकर सचिन तेंडुलकर, महान ऑलराउंडर कपिल देव से लेकर इयान बाथम तक कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं है जिसने अपने क्रिकेट करियर में बुरा दौर नही देखा हो। ये ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने अपनी लाइफ में बहुत बड़े मुकाम हासिल किए है। अब रन मशीन विराट कोहली के साथ भी कुछ ऐसा है रहा है कि उनका बल्ला कुछ कुंद सा पड़ गया है। विराट के विराट बल्ले से रन निकलना ही बंद हो गए है। विराट कोहली का समय कुछ ज्यादा अच्छा नहीं चल रहा है और ऐसे समय मे रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहुर और अपने जमाने के रहे धाकड़ गेंदबाज शोएब अख्तर ने कोहली को धाकड़ सलाह देते हुए कहा कि, ‘खूब खेलों खेल, तोड़ों दो सचिन के शतकों के शतक का रिकार्ड’ किसी की भी परवाह मत करो।

आप को बता दें कि विराट कोहली का क्रिकेटिंग फार्म कुछ ज्यादा अच्छा नहीं चल रही है। अब भी वो और उनका फार्म बुरे दौर से गुजर रहे है। IPL 2022  की बात करें तो करीब 22 की खराब औसत से 16 मैचों में 115 की बहुत ही खराब स्ट्राइक रेट से महज 341 रन ही बनाए है। पहले से ही क्रिकेट पंडितों के निशाने पर रहै है विराट कोहली और अब तो उनके प्रशंसक भी उनकी आलोचना करने लगे हैं।

जहां भी देंखों, इस समय विराट कोहली की क्रिकेटिंग फार्म की चर्चा है लेकिन, सब अनकी आलोचना करने में ही लगे है।  ऐसे में पाकिस्तान की रावलपिंडी एक्सप्रेस ने विराट कोहली की दिल खोलकर समर्थन किया है। शोएब अखतर ने रन मशीन विराट कोहली को सलाह देते हुए कहा है कि वो चाहते हैं कि विराट कोहली 110 शतक लगाएं।

Shoiab AKhtar: शोएब ने कहा कि कोहली की आलोचना करने से पहले आपको सोचना चाहिए कि छोटे बच्चे उनकों देखकर ही क्रिकेट सीख रहे है। छोटे बच्चों के कोहली रोल मॅाडल है। बच्चे उनके जैसा दिखना चाहते है अनके जैसा खेलना चाहते है।

कोहली के बारे में आलोचको को खासकर क्रिकेट पंडितों को साच समझ कर उनकी फाॅर्म पर टीका- टिप्पणी करनी चाहिए। उनकोे बारे में अच्छी बातें कहें और उन्हें वो सम्मान दें जिसके वो हकदार हैं। एक पाकिस्तानी होने के नाते मैं मानना  है कि वो सर्वकालिक महान खिलाड़ी हैं। मैं चाहता हूं कि वह अतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 110 शतक लगाएं और वो 45 साल की उम्र तक खेलें। मेरा मानना है कि विराट कोहली ऐसी भीषण परिस्थिति से ऐसे निकलेंगे जैसे सोना आग में तप कर निकलता है। मेरा मानना है कि विराट कोहली को कुछ दिनों के लिए अकेला छोड़ देना चाहिए उनकों सोचने का समय देना चाहिए कि खराब दौर को अच्छे दौर में कैसे बदला जा सकता है।

UPSC: पति ने छोड़ा साथ तो पापा ने बढ़ा दिया हाथ, फिर 177 वां रैंक किया हासिल
Cm Yogi In Sadan: सीएम योगी ने अखिलेश पर कसा तंज, ‘अखिलेश को बताया राहुल गाँधी’…
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.