Siddhu moose wala murder: पिता का खुलासा- सिद्धू को फिरौती के लिए धमकियां देता था लॉरेंस बिश्नोई, डीजीपी ने कहा 6 आरोपी गिरफ्तार

Siddhu moose wala murder:

Siddhu moose wala murder: मशहूर सिंगर और कांग्रेस नेता सुभदीप उर्फ सिद्धू की बीते रविवार को मनसा गांव के जवाहरके में गोली मार कर हत्या कर दी गई।
सिद्धू मूसेवाला की हत्या क्या फिरौती की रकम ना देने की वजह से हुई है? सिंगर मूसेवाला के पिता के बयान से हत्याकांड का यह मामला नया मोड़ लेता दिख रहा है. सिद्धू मूसावाला के मर्डर के बाद जो FIR लिखी गई है उसमें उनके पिता का बयान है।

Siddhu moose wala murder: उनके पिता ने बताया कि लगातार सिद्धू को धमकी भरे कॉल्स आते थे, जान से मरने की धमकी मिलती थी। और इसी लिए हमने बुलेट प्रूफ फॉर्च्यूनर लिया था। लेकिन रविवार शाम सिद्धू मौसी के घर के लिए जब निकले तो उन्होंने बुलेट प्रूफ गाड़ी घर पर छोड़ दी और गन मैन को भी छोड़ अपने दोस्तो के साथ निकल गए। और सिद्धू की गाड़ी के आगे से एक बुलैरो और सिद्धू के थार के पीछे एक करोला गाड़ी और जैसे ही सिद्धू जवाहारके गांव के बाहरी रोड पर पहुंचे तो बुलैरो मानो सिद्धू के आने का ही इंतजार कर रही थी, और जैसे सिद्धू की थार पहुंचती है ताबड़ तोड़ 30 फायरिंग हुई सिद्धू को गोलियों से भून दिया गया।

Siddhu moose wala murder: लारेंस विश्नोई ने एक पोस्ट के जरिए बड़े ही बेखौफ अंदाज में कहा कि आज जो कत्ल हुआ है सिद्धू मूसेवाला का उसकी जिम्मेदारी मैं और मेरा भाई गोल्डी बरार लेते हैं जबकि लारेंस विश्नोई तिहाड़ जेल में बैठ कर और गोल्डी बरार कनाडा से सिद्धू के कत्ल की साजिश की।
मूसावाला के पिता बलकौर सिंह ने बताया है कि उनके बेटे को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की गैंग की तरफ से धमकियां मिल रही थीं और फिरौती मांगी जा रही थी. पिता के मुताबिक, मूसावाला को कई बार फिरौती के लिए धमकी भरे फोन आए थे।

पिता बलकौर सिंह ने आगे बताया कि धमकियों की वजह से परिवार ने बुलेटप्रूफ फॉर्चूनर कार भी खरीदी हुई थी. लेकिन रविवार को उनका बेटा घर से अपने दो दोस्तों (गुरविंदर सिंह और गुरप्रीत सिंह) के साथ थार कार से कहीं निकला था. पिता ने बताया कि बुलेटप्रूफ कार और गममैन दोनों को ही सिद्धू घरपर छोड़ कर गए थे। बलकौर सिंह ने कहा, ‘मैं उसके (सिद्धू) पीछे-पीछे उसके सरकारी गनमैन लेकर दूसरी गाड़ी से गया था. रास्ते में मैंने एक कोरोला गाड़ी को मेरे बेटे की थार का पीछे करते देखा. उसमें चार लोग सवार थे।’

पिता ने कहा कि मेरे बेटे की थार जब जवाहरके गाँव की फिरनी ( बाहरी रास्ता) के पास पहुंची तो वहां एक सफेद रंग की बुलेरो गाड़ी पहले से खड़ी इंतजार कर रही थी. उसमें भी चार लोग बैठे थे.। सिद्धू के पिता ने आगे बताया कि जैसे ही मेरे बेटे की थार उस बुलेरो गाड़ी के सामने पहुंची तो चारों नौजवानों ने थार पर अंधाधुंध गोलियां चलाईं. फिर चंद मिनटों तक फायरिंग करके बुलेरो और कोरोला गाड़ी लेकर वो वहां से फरार हो गए।’

पिता ने बताताया कि जैसे ही वह मौके पर पहुंचे तो उन्होंने शोर मचाकर आसपास के लोगों को बुलाया. फिर उनके बेटे और दोनों दोस्तों को हॉस्पिटल लेकर जाया गया, पंजाबी सिंगर और कांग्रेसी नेता शुभदीप सिंह उर्फ सिद्धू मूसेवाला की हत्या के लिए पुलिस ने हत्या, हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

पंजाब के DGP वी. के. भावरा ने बताया था कि सिद्धू मूसेवाला जब अपने घर से निकले तब रास्ते में 2-2 गाड़ी आगे और पीछे से आईं और इनकी गाड़ी पर फायरिंग की और जब इनको अस्पताल ले जाया गया वहां उनको मृत घोषित किया गया. भावरा ने कहा था कि फिलहाल यह आपसी रंजिश का मामला लग रहा है। पंजाब के DGP ने आगे बताया था कि इस घटना की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य लक्की ने ली है जो अभी कनाडा में है।

पंजाबी गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पुलिस ने एक और व्‍यक्ति को हिरासत में लिया है। पुलिस ने मोगा के जगदेव सिंह को नकोदर से उठाया है। बता दें कि इससे पहले करीब छह लोगों को इस मामले में हिरासत में लिए जाने की सूचना है। उधर गांव जवाहर मेंं पुलिस व फोरेंसिक टीम ने सिद्धू मूसेवाला की गाड़ी की जांच की है। उधर उत्‍तराखंड से भी इस मामले में एक व्‍यक्ति को हिरासत में लिए जाने की सूचना है।

Delhi: स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन को ED ने किया गिरफ्तार, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताये फर्जी आरोप
Asaduddin Owaisi: असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- अब्दुल का बेटा अब नहीं बनाएगा पंचर, RSS वाले बनाते हैं मजाक
By Kajal Singh