चाचा शिवपाल यादव का छलका दर्द: जिसे हमने चलना सिखाया... और वो हमे रौंदता चला..

चाचा शिवपाल का छलका दर्द: जिसे हमने चलना सिखाया… और वो हमे रौंदता चला गया

शिवपाल यादव

चाचा शिवपाल  : यूपी चुनाव 2022 में चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश ने मिलकर भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ा था। उसके बाद से ही चाचा-भतीजे में ठनी हुई है। कभी अखिलेश चाचा पर हमला करते है और कभी चाचा भतीजे अखिलेश यादव पर तंज कसते है। हाल ही में चाचा शिवपाल का दर्द छलक आया और उन्होंने कहा कि जिसे हमने चलना सिखाया… और वो हमे रौंदता चला गया।

उन्होंने अपने ट्वीट में दर्द का इजहार करते हुए कहा है कि अपने सम्मान के न्यूनतम बिंदु पर जाकर मैंने उसे संतुष्ट करने का प्रयास किया! इसके बावजूद भी अगर नाराज हूं तो किस स्तर तक उसने हृदय को चोट दी होगी! हमने उसे चलना सिखाया.. और वो हमें रौंदते चला गया.. एक बार पुनः पुनर्गठन,आत्मविश्वास व सबके सहयोग की अप्रतिम शक्ति से ईद की मुबारकबाद।

चाचा शिवपाल के छलके दर्द पर सपा की प्रतिक्रिया

शिवपाल सिंह यादव के इस ट्वीट पर समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता डॉ. रोली तिवारी मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा, ‘ये ट्वीट बेहद भावुक करने वाली है। आप सदैव हमारे लिए सम्मानित थे, सम्मानित हैं, सम्मानित रहेंगे चाचा जी।’

अब्दुल्ला आजम का भी अखिलेश पर हमला

ईद के मौके पर अपने पिता आजम खां को याद करते हुए अब्दुल्ला आजम ने ट्वीट करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि ‘वो जो ख्वाब था मेरे जहन में, न मैं कह सका न मैं लिख सका, कि जबान मिली तो कटी हुई, कि कलम मिला तो बिका हुआ।’

एक अन्य ट्वीट में अब्दुल्ला ने अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘तू छोड़ रहा है, तो खता इसमें तेरी क्या, हर शख्स मेरा साथ निभा भी नहीं सकता। वैसे तो एक आंसू ही बहा के मुझे ले जाए, ऐसे कोई तूफान हिला भी नहीं सकता। ईद मुबारक, आपका और सिर्फ आपका, मोहम्मद आजम खां।’

हाल ही में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और आजम खां के बीच तलखियां देखने को मिल रही है। सीतापुर जेल में पिछले दिनों आजम खान से मिलने पहुंचे सपा के प्रतिनिधिमंडल से इनकार कर दिया था।
अखिलेश यादव ने भी चाचा शिवपाल पर कसा था तंज

शिवपाल यादव के बीजेपी में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं। सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी इस बात को लेकर बीजेपी पर हमला कर चुकी है। उन्होंने कहा कि अगर हमारे चाचा को बीजेपी लेना चाहती है तो देर क्यों कर रही है।

केशव प्रशाद मौर्य ने अखिलेश को दी थी नसीहत

इस पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा था कि अखिलेश बीजेपी के सलाहकार या नेता नहीं हैं। ऐसा पूछकर वो गलत कर रहे हैं। उन्हें ये सवाल अपने चाचा से पूछना चाहिए कि उनको कहां जाना है। बीजेपी किसी को लेने के लिए तैयार नहीं बैठी है।

Jodhpur Communal Clash: जोधपुर हिंसा पर सियासत तेज, कांग्रेस का आरोप जोधपुर हिंसा भाजपा की साजिश, भाजपा ने भी किया पलटवार
Violence On Eid: अनंतनाग से लेकर जोधपुर तक शांतिदूतों का ईद पर बवाल, आजाद कश्मीर के भी लगाए नारे
Rahul Gandhi: राहुल गांधी की पब वाली वीडियो हुई वायरल बीजेपी ने कसा तंज कांग्रेस ने भी किया पलटवार
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.