Up Violence: जुमे की नमाज से पहले पुलिस अलर्ट, संवेदनशील इलाकों को बनाया छावनी

up police

Up Violence: यूपी में पिछले दो शुक्रवार से जुमे की नमाज के बाद हो रहे दंगे को ध्यान में रखते हुए यूपी में पुलिस पुरी तरह से मुस्तैद है। पिछले शुक्रवार जुमे का नमाज के बाद यानि 10 जून को यूपी के प्रयागराज में हुई हिंसा का मामला तेजी से कंट्रोल होता जा रहा है। जिसमें दंगे के मुख्य आरोपी जावेद अहमद की सम्पत्ति पर बुलडोजर चलाकर प्रशासन ने कड़ी कार्यवाही की है। इस मामले में अब तक पूरे उत्तर प्रदेश से 357 दंगाई गिरफ्तार हो चुके हैं।

इमामों ने की शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील

मस्जिद के इमामों ने कल होने वाली जुमे की नमाज को शांति पूर्ण तरीखे से करने की अपील की है। साथ ही कहा है कि किसी के बहकावे में ना आएं और माहौल को शांतिपूर्ण बनाए रखने में सहयोग करें और लोग आसपास की मस्जिदों में या फिर अपने घरों में ही नमाज अदा करें।

एडीजी प्रशांत कुमार ने क्या कहा?

यूपी के कानून व व्‍यवस्‍था एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा, कि कल की नमाज की व्यवस्था के लिए धर्मगुरुओं से जनसंपर्क किया गया है। सभी का सहयोग भी प्राप्त हो रहा है। बरेली में भी एक प्रदर्शन प्रस्तावित था, जिसकी तिथि आगे की गई है। वर्तमान में हमारी सभी धर्मगुरुओं और शांतिप्रिय लोगों के साथ बैठक हुई है। इस बार ऐसी व्यवस्था की गई है, कि कोई भी समस्या ना हो। इस सबंध में सभी धर्मगुरुओं के द्वारा अपील भी जारी की गई है। साथ ही जिन उपद्रवियों ने पहले अशांति फैलाई उनके खिलाफ निष्पक्षता तथा पारदर्शिता के साथ कार्रवाई हो रही है।

Up Violence: आपको बता दें कि दंगे से निपटने के लिए रैपिड एक्शन फोर्स के डिप्टी कमांडेंट एमके पांडेय ने ब्रीफ करते हुए जवानों को हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है। उन्होंने दावा किया है, कि रैपिड एक्शन फोर्स मल्टीसेल लांचर जैसे उपकरणों से लैस है। इन जवानों के पास पूरी तरह से सुरक्षा उपकरण भी मौजूद हैं, जिससे किसी भी हालत से निपटने में पूरी तरह सक्षम है।

ये भी पढ़ें..

Up Violence: प्रयागराज हिंसा का मास्टरमांइड जावेद अहमद गिरफ्तार, जेएनयू में पढ़ने वाली बेटी भी रडार पर

UP police in Action: कल हुई पत्थरबाजी के बाद अब तक 230 आरोपी गिरफ्तार

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️