Uttar Pradesh: सीएम योगी की मुहिम, गरीबों का निवाला छीनने वालों से की जायेगी वसूली.

Uttar Pradesh: सीएम योगी की मुहिम, गरीबों का निवाला छीनने वालों से की जायेगी वसूली

cm yogi

Uttar Pradesh: मुखिया आदित्यनाथ योगी अपने कार्यों व बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं, एक बार फिर अपनी मुहिम को लेकर चर्चा में हैं। योगी के ऐलान के बाद अधिकारियों के पसीने छूटे हुए हैं, लगातार बैठकें कर रहे हैं। साथ ही उनकी हालत भी ख़स्ता बनी हुई है, जिन्होंने ग़रीबों का निवाला छीना है।

आपको बता दें कि हाल ही में सीएम योगी ने आदेश दिया है, कि पूरे प्रदेश में अपात्र कार्ड धारकों के खिलाफ कार्रवाई हो। इसके अलावा फ्री में गेहूं, चावल और खाद्य सामग्री लेने वाले अपात्र कार्ड धारकों की लंबी फेहरिस्त बनाकर उनसे वसूली करने का आदेश दिया है। तब से ही लगातार अधिकारी हरकत में आ गये हैं और जाँच करने में लगे हैं।

योगी के ख़ौफ़ से सैकड़ों अपात्र कार्ड धारकों ने किया राशन सरेंडर

सीएम के आदेशों के बाद से जिला प्रशासन हरकत में है, मुजफ्फरनगर में जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने जिला पूर्ति अधिकारी और समस्त राशन डीलरों के साथ एक बैठक की है, बैठक में जिलाधिकारी ने अपात्र कार्ड धारकों को राशन कार्ड सरेंडर करने के साथसाथ, अपात्र कार्ड धारको की लिस्ट तैयार कराके उनसे वसूली करने का आदेश दिया है। मुजफ्फरनगर के जिलाधिकारी के आदेश से पूरे जिले में हड़कंप मच गया और सैकड़ों की संख्या में अपात्र कार्ड धारक जिला पूर्ति अधिकारी के यहाँ राशन सरेंडर करने पहुंच गए।

Uttar Pradesh: जिलाधिकारी ने आगे बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत शासन का आदेश है कि लोग या तो अंतोदय पात्रता में आते हैं या फिर पात्र गृहस्थी में आते हैं। इसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सीमा निर्धारित है। ग्रामीण क्षेत्र में 74% और शहरी क्षेत्र में 64% के अंतर्गत लोग शामिल हो सकते हैं। हमारे जनपद में बहुत सारे अपात्र लोगों ने सूचनाएं छुपाकर अंतोदय कार्ड की पात्रता ले ली। इसी तरह पात्र गृहस्थी में भी कुछ ऐसे लोग हैं जो सही में पात्र नहीं है।

जिलाधिकारी ने ये भी कहा कि जिन लोगों ने ऐसा काम किया है, उन लोगों के खिलाफ शासन स्तर से भी आदेश हुआ है और मेरे द्वारा भी इस मामले में कार्रवाई की जा रही है। हमें जो सूचना मिली थी उसमें 800 ऐसे अंतोदय कार्ड धारक हैं, जिन्होंने खुद राशन लेना बंद कर दिया है और इसी प्रकार 13 हजार यूनिट ऐसे कार्ड धारक हैं, जो राशन लेने ही नहीं आ रहे हैं। इसके अलावा सीएम के आदेश के बाद बड़ी संख्या में कार्ड धारकों ने अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दिया है।उन्होंने कहा कि हम कार्ड धारकों का वेरीफिकेशन कराएंगे और अगर कोई कार्डधारक अपात्र निकला तो उससे वसूली भी की जाएगी।

ये भी पढ़ें..

अलीगढ़: मस्जिद में कश्मीरी, देवबंदी जमातियों को बुलाने का विरोध करना पड़ा भारी, कट्टरपंथियों की भीड़ ने घर पर किया हमला

Hardik Patel Resign: हार्दिक पटेल ने कांग्रेस से दिया इस्तीफा, भाजपा का थाम सकते हैं दामन

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.