Violence On Eid: अनंतनाग से लेकर जोधपुर तक शांतिदूतों का ईद पर बवाल, आजाद...

Violence On Eid: अनंतनाग से लेकर जोधपुर तक शांतिदूतों का ईद पर बवाल, आजाद कश्मीर के भी लगाए नारे

EId Violence

Violence On Eid: कश्मीर के अनंतनाग से लेकर राजस्थान के जोधपुर तक शांतिदूतों ने ईद के मौके पर जमकर बवाल काटा। अनंतनाग में ईद की नमाज के बाद शांतिदूतों ने सुरक्षाबलों पर जमकर पत्थर फेंके। बताया यह जा रहा है कि इस बार ईद के मौके पर अनंतनाग मे भारी संख्या में नमाजी जमा हुए थे। उनमें से किसी नमाजी ने मस्जिद से बाहर निकलते हुए सुरक्षबलों पर पत्थर फेंके। देखा-देखी सब नमाजियों ने सुरक्षबालों पर पत्थर फेंकेने शुरू कर दिए और साथ ही आजाद कश्मीर के नारे भी लगाए। सुरक्षाबलों ने सख्ती बरतते हुए नमाजियों को शांत करने की कोशिश की और माहौल खराब करने की साजिश को नाकाम कर दिया। वहीं दूसरी ओर राजस्थान के जोधपुर में भी ईद से एक दिन पहले रात को लाउडस्पीकर और झंडे लगाने को लेकर दो समुदायों के बीच जमकर पत्थरबाजी हुई।

Violence On Eid: प्रशासन ने जोधपुर में लगाया कर्फ्यू

पुलिस आयुक्त ने जोधपुर में दोनों समुदायों के बीच तनाव को देखते हुए जोधपुर आयुक्तालय के ज़िला पूर्व के थाना क्षेत्र उदयमंदिर, सदरकोतवाली, सदरबाजार, नागोरी गेट, खाण्डाफलसा एवं ज़िला पश्चिम के थाना क्षेत्र प्रतापनगर, प्रतापनगर सदर, देवनगर, सूरसागर, सरदारपुरा में आज दोपहर 1 बजे से कल मध्यरात्रि 12 बजे तक कर्फ्यू लगाया दिया है।

जोधपुर में बढ़ते तनाव को देखते हुए आनन-फानन में सीएम गहलोत ने हाईलेवल मीटिंग को बुला लिया है और पल-पल की जानकारी प्रशासन से ले रहे है।और साथ ही दोनों समुदाय के जिम्मेदार लोगों से शांति बनाने की अपील कर रहे है।

Violence On Eid:  गौरतलब है कि पथराव में डीसीपी भुवन भूषण यादव, एसएचओ अमित सिहाग समेत चार पुलिसकर्मी और कुछ मीडियाकर्मी भी घायल हुए है। प्रशासन नें शहर में तनाव को देखते हुए इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है। जोधपुर जिला प्रशासन ने दोनों समुदाय के लोगों से सौहार्द कायम रखने और त्योहार शांतिपूर्वक मनाने की अपील की है।

वहीं सीएम अशोक गहलोत ने जोधपुर में हिंसा को लेकर कहा है कि जो कल रात से तनाव पैदा हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है। राजस्थान की परंपरा सभी समाज और धर्मों के लोगों के साथ प्रेम और भाईचारे के साथ रहने की रही है। मैं लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।

उन्होंने ये भी कहा है कि असामाजिक तत्वों से सख़्ती के साथ निपटा जाएगा। मैंने पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। मैं राजनीतिक पार्टी के नेताओं से अपील करता हूं वह भी शांति की अपील करें।

राजस्थान में दो समुदायों के बीच हिंसक घटनाओं को लेकर केंद्रीय राज्य मंत्री एस.पी. सिंह बघेल ने कांग्रेस की राजस्थान सरकार पर मुस्लिम तुष्टीकरण को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।
अन्होंने कहा कि  अशोक गहलोत सरकार की मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति की वजह से कुछ असामाजिक तत्वों के हौसले बुलंद होते हैं। राष्ट्र पहले स्थान पर होना चाहिए और पार्टी दूसरे स्थान पर होनी चाहिए।

आप को बता दे कि जोधपुर शहर में परशुराम जयंती के उपलक्ष्य में रैली निकाली गई थी। इस दौरान जालोरी गेट सर्कल पर भगवा झंडे लगाए गए थे। मंगलवार को मनाई जाने वाली ईद को लेकर विशेष समुदाय के लोगों ने इसी सर्कल पर झंडे लगाने की कोशिश की तो विवाद हो गया।

वहीं हिंदूवादी संगठनों ने वहां आकर विरोध दर्ज कराते हुए नमाज के लिए लगाए गए लाउडस्पीकरों को पोल से उखाड़ फेंका। इसके बाद दोनों गुटों में विवाद हो गया। दोनों ओर से पत्थरबाजी शुरू हो गई थी।

Loudspeaker Controversy:जोधपुर में ईद से पहले लाउडस्पीकर को को लेकर दो गुटों में झड़प,पुलिस ने उपद्रवियों पर किया लाठीचार्ज, छोड़े आंसू गैस के गोले
Loudspeaker controversy: मुंबई मेयर पेडनेकर का बयान- मंदिर,मस्जिद से हटाए जाएंगे लाउडस्पीकर, कानून सबके लिए एक
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.