National Anthem In Madarsas: योगी सरकार का ऐतिहासिक फैसला, मदरसों में...

National Anthem In Madarsas: योगी सरकार का ऐतिहासिक फैसला, यूपी के मदरसों में गाया जाएगा राष्ट्रगान

National Anthem In Madarsas

National Anthem In Madarsas: सीएम योगी ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए आदेश दिया कि तत्काल प्रभाव से मदरसों में राष्ट्र गान गया जाएगा। बता दें कि UP मदरसा शिक्षा बोर्ड परिषद ने इसका आदेश जारी कर दिया है। यह आदेश यूपी में उन सभी मदरसों पर लागू होगा। जो कि सरकार से मान्यता प्राप्त  है, अनुदान पाने वाले और अनुदान नहीं पाने वाले सभी मदरसों पर भी मान्य होगा। कक्षाएं शुरू होने से पहले सुबह की प्रार्थना के समय राष्ट्रगान होगा। 14 मई से मदरसों में बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो रही हैं जो कि 23 मई तक चलेगी।

National Anthem In Madarsas: मंत्री दानिश कंप्यूटर के साथ धर्मग्रंथ भी पढ़ेंगे छात्र

यूपी के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री दानिश आजाद ने कहा– ‘जब मदरसा छात्र राष्ट्रगान गाएंगे तो समाज के मूल्यों को भी जानेंगे। मदरसा शिक्षा के उत्थान के लिए सरकार काम कर रही है। अब मदरसा के छात्र गणित, विज्ञान, कंप्यूटर के साथसाथ धर्मग्रंथों का भी अध्ययन करेंगे।

National Anthem In Madarsas: गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा- राष्ट्रगान हर जगह होना चाहिए

वहीं, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राष्ट्रगान हर जगह होना चाहिए… विचारणीय बिन्दु है, विचार किया जा सकता है: रिपोर्टर के सवाल ‘उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य करने के बाद क्या म.प्र. में भी ऐसा किया जा सकता है?’ 
https://twitter.com/AHindinews/status/1525013413227036672?s=20&t=PAl-PWLSj3Q-lp1nZSHWRw

National Anthem In Madarsas: असदुद्दीन ओवैसी- मुझे देशभक्ति का सर्टिफिकेट न दे बीजेपी

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी मदरसों ने राष्ट्रगान अनिवार्य किए जाने पर कहा कि योगी आदित्यनाथ और बीजेपी को मुझे देशभक्ति का सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं है। मैं पूछना चाहता हूं कि जब देश का स्वतंत्रता संग्राम लड़ा जा रहा था तब संघ परिवार नहीं था। अंग्रेजों के खिलाफ जो लड़े थे वो ये मदरसे ही थे।
https://twitter.com/ANI/status/1524773082447024129?s=20&t=zk2Vy5Eflp0xIOjgNBOUdA

लखनऊ के दारुल उलूम फरंगी महली के प्रवक्ता मौलाना सुफियान निजामी ने कहा– ‘मदरसे में राष्ट्रगान अनिवार्य करने पर उनको कोई भी आपत्ति नहीं है, लेकिन बारबार मदरसों को टारगेट किया जाता है। ये सही नहीं है। पहले कहा गया कि NCERT की बुक पढ़ाई जाएगी, लेकिन कोई ऐसी बुक नहीं पढ़ाई जा रही है। न ही मदरसों को हाइटेक किए जाने को लेकर कोई भी संसाधन किए जा रहे हैं। इस ऑर्डर से यही सवाल उठता है कि मदरसों में राष्ट्रगान नहीं होता है, न ही कोई पढ़ाई होती है।

वहीं, बरेली में तंजीम उलेमाइस्लाम के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी ने कहा कि विशेष मौके जैसे 26 जनवरी , 15 अगस्त पर राष्ट्रगान होता है। मगर यह हर रोज लागू नहीं किया जाना चाहिए। फिर भी हमे कोई एतराज नहीं है। हम पढ़ेंगे। हुकूमत को लगता है कि देश से मोहब्बत का इजहार इसी तरह से किया जाता है तो हमें एतराज नहीं है।

बोर्ड मीटिंग में लिया था राष्ट्रगान का फैसला

यूपी मदरसा शिक्षा परिषद की 24 मार्च को हुई बैठक में फैसला लिया गया था कि मदरसों में कक्षा शुरू होने से पहले छात्र राष्ट्रगान गाऐंगे। गत गुरूवार को रजिस्ट्रार निरीक्षक एसएन पांडेय ने जारी किया है। उन्होंने बताया कि सत्र 2022-23 के स्कूल खुलने पर ही राष्ट्रगान कराने का फैसला किया गया था। मदरसा बोर्ड की परीक्षाएं शुरू होने पर यह फैसला लागू कर दिया जाएगा।

Kisan Karj Maaf Yojna 2022: योगी आदित्यनाथ किसानों का कर सकते है कर्जा माफ, चल रही है तैयारी, 200 करोड़ का पड़ेगा सरकार पर भार
Gyan Vapi Maszid Case: सुप्रीम कोर्ट का सर्वे को रोकने से इंकार, कहा- पहले देखेंगे फाइल
By Atul Sharma

बेबाक लिखती है मेरी कलम, देशद्रोहियों की लेती है अच्छे से खबर, मेरी कलम ही मेरी पहचान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.