Sansad Tv: उज्जैन के वजनदार सांसद की मासूम बेटी बेटी ने मोदी से कहा, “मैं आ..

Sansad Tv: उज्जैन के वजनदार सांसद की मासूम बेटी ने मोदी से कहा, “मैं आपको जानती हूँ, आप लोकसभा टीवी में….

modi

Sansad Tv: एक मासूम बच्चा वही बोलता है, जो उसके दिल में होता है। न वो बातों को तोड़ना जानता है और न ही मोड़ना क्योंकि बच्चे में समझदारी का अभाव रहता है। ऐसा हुआ तब जब एक मासूम बच्ची ने मोदी को बोल दिया मैं आपको जानती हूँ, आप लोकसभा टीवी में काम करते हैं न। इतना सुनते ही मोदी के चेहरे पर एक मीठी मुस्कान दिखी, उन्होंने बच्ची के सिर पर हाथ घुमाते हुए चॉकलेट पकड़ा दी।

देखो इसमें कोई दोराय नहीं ये साफ जाहिर है कि जीते हों किसी ने देश तो क्या..हमने तो दिलों को जीता है। जी हाँ ऐसा ही कुछ मोदी ने किया राजनितिक किसी को उनसे कुंठा हो सकती है, लेकिन मोदी ने बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक के दिलों में अपनी अलग पहचान बनाई है।

देश का एक मासूम बच्चा भी मोदी को भली-भांति जानता है औऱ बुजुर्ग भी.. मोदी का प्यार भी बच्चों के लिए समय-समय पर देखने को अक्सर मिलता रहता है। ये सिर्फ देश में ही नहीं विदेश में भी बच्चे मोदी को अपना आयकन मानते हैं। जब हाल ही में मोदी जापान यात्रा पर गये तो वहाँ मोदी के स्वागत में छोटे-छोटे बच्चे घंटो से इंतजार में खड़े थे, जब मोदी पहुँचते हैं तो बच्चे अपने-अपने अंदाज में स्वागत करते हैं।

इतना ही नहीं साहब! बच्चों ने हिंदी भाषा में गीत गाकर और हिंदी भाषा में बात कर अभिवादन किया ये सिर्फ मोदी के लिए ही गर्व की बात नहीं पूरे हिंदुस्तान के लिए गर्व की बात थी। क्योंकि एक दौर वो भी था जब भारतीय राजनेता हिंदी बोलने की तो छोड़ो हिंदी में भाषण तक नहीं देते थे, उनको शर्म आती थी ये मोदी का भारत है, आज लोग हिंदी बोलने में गर्व महसूस करते हैं।

खैर इसे कोई नकार नहीं सकता कि मोदी एक विश्वनेता बनकर उभरे हैं, देश का सिर ऊँचा किया है…….

बहरहाल अब बात कर रहे हैं, हम उसी बच्ची की जिसने मोदी को लोकसभा टीवी का नौकर बताया, ये आप भी जानते हैं क्यों बताया? क्योंकि मोदी जब संसद में भाषण देते हैं, तो लोकसभा टीवी पर दिखाई पड़ते हैं, इसीलिए उस मासूम बच्ची ने मोदी को लोकसभा टीवी का नौकर मान लिया……

बच्ची कोई औऱ नहीं जी वो उज्जैन के उन्हीं सांसद की बेटी है, जो लोकसभा के सदस्यों में सबसे वजनदार हैं। वजनदार हम यूंही नहीं कह रहे उनको ज्यादा वजन होने का उन्हें इनाम भी मिला है। केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने बोला था कि वो जितना वजन कम कर लेंगे उतने हजार करोड़ की उनके लोकसभा क्षेत्र को काम मिलेगा।

Sansad Tv: जी हाँ वो हैं अनिल फिरोजिया जिनमें 130 किलो वजन था और अब घटाकर 114 किलो कर लिया है। यानि कि 16 किलो कम करके 16 हजार करोड़ की योजना अपने क्षेत्र के लिए तय कर दी है। सांसद साहब ने ये भी बोला है कि 100 किलो वजन होते ही वो गड़करी जी से जा मिलेंगे।

ये भी पढ़ें..

Asaduddin Owaisi: भाजपा के “सबका साथ, सबका विकास” वाले नारे पर कसा तंज, ओवैसी बोले- हमारे पैरों की भी करिये मालिस

राष्ट्रवाद: हर घर तिरंगा लहराने से विपक्ष क्यों है परेशान?

By Rohit Attri

मानवता की आवाज़ बिना किसी के मोहताज हुए, अपने शब्दों में बेबाक लिखता हूँ.. ✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published.