#काशी विश्वनाथ धाम: पीएम मोदी ने गरीबों की तरह खाया खाना तो अमीरों की तरह बदलते रहे कपड़े - ख़बर इंडिया

#काशी विश्वनाथ धाम: पीएम मोदी ने गरीबों की तरह खाया खाना तो अमीरों की तरह बदलते रहे कपड़े

पीएम मोदी का वाराणसी दौरा पिछले कई दिनों से मीडिया कवरेज का केन्द्र बना हुआ है, लेकिन बात करें सोमवार की तो सोशल मीडिया से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पूरा लाइव प्रोग्राम दिखाता रहा। इतना ही नहीं पीएम मोदी के द्वारा की गई हर एक गतिविधि पूरे दिन मीडिया की ब्रेकिंग बनती रही। आइए डालते हैं ऐसी ही कुछ प्रमुख झलकियों पर…

हर-हर महादेव ने लोगों में भरा भक्ति का भाव

अपने संबोधन में हर-हर महादेव का नारा बोलकर पीएम मोदी ने वहां के लोगों से जुड़ने की कोशिश की साथ ही खुद को भोले नाथ का भक्त होने का अहसास मौजूद लोगों को कराया। इस दौरान मौजूद लोगों ने भी मोदी के बाद हर-हर महादेव के नारे लगाए।

मजदूरों के साथ किया भोजन

काशी विश्वनाथ कोरिडोर के निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के ऊपर पुष्प वर्षा करके पीएम मोदी ने दिखा दिया कि उनके दिल में मजदूरों के प्रति कितना सम्मान है। यहां एक उदाहरण वह भी याद आता है कि शाहजहां ने आगरा में ताजमहल बनाने वाले कारीगरों के हाथ कटवा दिए गए थे वह भी इसलिए ऐसा ताजमहल कहीं दूसरा न बना सकें, लेकिन वाराणसी में करीगरों का सम्मान करके पीएम मोदी ने उनका उत्साहवर्धन किया।

ऐसा करके शायद वह यह संदेश देना चाहते हैं कि इन मजदूरों को फिर से कुछ बेहतर करने का मौका मिले और कोई नहीं बात नहीं कि कहीं इन मजदूरों को मथुरा में कार्य करने का मौका न मिल जाए। इसके बाद मोदी ने मजदूरों के साथ फोटो कराए। इस दौरान पीएम मोदी उनके साथ काफी सहज दिखाई दिए। इतना ही नहीं इसके बाद सभी मजदूरों के साथ बराबर में बैठकर पीएम मोदी ने जब एक गरीब की तरह खाना खाया।

साधारण व्यक्ति की तरह गंगा स्नान

पीएम मोदी ने काशी में पहुंचकर एक साधारण व्यक्ति की गंगा स्नान किया। इस दौरान वह सामान्य व्यक्ति की तरह गंगा में डुबकी लगाते हुए नजर आए। गंगा स्नान के दौरान मोदी गंगा पूजा तो कभी उनका ध्यान करते हुए भी दिखाई दिए। स्नान के दौरान वह कपड़े पहने हुए दिखाई दिए। वह हर कदम पर साधारण व्यक्ति की तरह ही दिखाई देते रहे।

अमीरों की तरह कपड़ने बदलना

पीएम मोदी अपने काशी दौरे के समय अमीरों की तरह समय-समय पर कपड़े बदलते रहे। काशी पहुंचने के समय वह अपने चित परिचित लिबास में नजर आए। इसके बाद वह गंगा स्नान के समय भगवा कपड़ों के ऊपर सफेद रंग के अंगोछे में दिखाई दिए। इसके बाद वह गोल्डन कलर का कुर्ता और माथे पर त्रपुंड तिलक के साथ भोले की भक्ति में डूबे हुए दिखाई दिए। इतना ही नहीं उन्होंने जहां भी मौका मिला वहीं साधु-संतों की तरह पूजा अर्चना की। इतना ही नहीं ऐसा करके मोदी ने बिना बोले जनेऊधारी हिंदुओं को भी करार जवाब दिया।

पूरे दिन ट्रैंड करता रहा काशी विश्वनाथ धाम

पीएम मोदी के वाराणसी दौरे पर मीडिया के साथ हर किसी की नजर कुछ इस कदर थी कि पूरे दिन काशी विश्वनाथ धाम ट्विटर पर ट्रैंड करता रहा। वहीं जब पीएम मोदी का काफिला बनारस की सड़कों से होकर गुजर रहा था तो इस बीच हजारों लोग सड़कों के किनारे खड़े होकर मोदी का स्वागत करने के लिए खड़े हुए थे, लेकिन इसी बीच एक पल ऐसा भी आया कि जब मोदी समर्थक मोदी जी का स्वागत करने के लिए लालाहित था तो मोदी ने गाड़ी का दरबाजा खोलकर प्रशंसक से सम्मान स्वीकार किया। ऐसा कुछ करके मोदी ने आम जनता से जुड़ने की कोशिश की।

बनारस की सड़कों पर निकलकर मोदी-योगी ने सभी को चौंकाया

पीएम मोदी अपने दौरे के दौरान देर रात करीब 1 बजे जब वाराणसी की सड़कों निकले तो हर कोई उन्हें देख स्तब्ध रह गया। इतना ही नहीं एसपीजी के साथ पुलिस प्रशासन की सांस अटक गई तो वहीं मीडियाकर्मियों की रातों की नींद अचानक से गायब हो गई। इस दौरान मोदी ने सीएम योगी के साथ वाराणसी के रेलवे स्टेशन के साथ बनारस की सड़कों पर भ्रमण किया। इस बीच वह एक राहगीर के बच्चे को मोदी दुलार और लोगों का आभिवादनस्वीकर करते हुए नजर आए।

सीएम के साथ पीएम की पाठशाला

अपने दौरे के साथ पीएम मोदी आगमी विधानसभा चुनावों को लेकर भी चिंतित दिखाई दिए। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि उन्होंने गंगा किनारे 12 मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की और उनसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। इसमें माना जा रहा है कि मोदी ने विकास कार्यों के साथ विधानसभा चुनावों को लेकर भी चर्चा की हो, लेकिन मोदी ने अपने दौरे पर ही मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करके यह संदेश दे दिया है कि किसी भी कीमत पर सत्ता में बने रहना बेहद जरूरी है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.